--Advertisement--

मंदिरा बेदी करेंगी 'ओजस-2014' का आगाज, देशभर के छात्र होंगे शामिल

इस फेस्ट में देशभर के 120 इंजीनियरिंग एवं मैनेजमेंट कॉलेज के 6000 से अधिक विद्यार्थी हिस्सा लेंगे।

Dainik Bhaskar

Mar 05, 2014, 05:24 AM IST
mandira bedi in ojas 2014

जमशेदपुर. राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) जमशेदपुर में वार्षिकोत्सव ओजस सात मार्च से शुरू होगा। संस्थान के निदेशक डॉ रामबाबूm कोडाली के नेतृत्व में नौ प्रोफेसर एवं चार विद्यार्थियों संयोजक मंडली इस तीन दिवसीय कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए रुपरेखा तैयार करने में लगी है। इस फेस्ट में देशभर के 120 इंजीनियरिंग एवं मैनेजमेंट कॉलेज के 6000 से अधिक विद्यार्थी हिस्सा लेंगे। फेस्ट में सामाजिक सरोकारों के तहत एनआईटी व मैनेजमेंट के छात्रों द्वारा किए जाने वाले कार्यों का उल्लेख तथा इससे जुड़े गरीब छात्र-छात्राओं का शो भी प्रदर्शित किया जाएगा।

वूमेन इम्पावरमेंट पर व्याख्यान देगी बेदी

नारी शक्तिको लेकर देश में आंदोलन कर रही अभिनेत्री मंदिरा बेदी इस फेस्ट का आगाज 7 मार्च को शाम 5.30 बजे करेगी। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर वह वूमेन इम्पावरमेंट पर लेक्चर भी देंगी।

क्विज का संचालन करेंगे बैरी ओ ब्रायन

फेस्ट के दूसरे दिन विशेष कार्यक्रम 'डायरेक्टर्स कट फॉर मूवी मूमेंट' का आयोजन होगा। इसमें निर्णायक मंडली के निदेशक होंगे बैरी ओ ब्रायन। वे इसी दिन शाम को क्विज का भी संचालन करेंगे।

अंतिम दिन आपबीती शेयर करेंगे रवींदर सिंह

ओजस के तीसरे व अंतिम दिन छात्रों को अपनी आपबीती शेयर करने तथा सफलता के टिप्स देने के लिए सुप्रसिद्ध लेखक रवींदर सिंह आएंगे। वे डॉ कोडाली के साथ समापन समारोह के अतिथि होंगे।

प्रयास में गरीब छात्रों को मौका

विद्यार्थियों द्वारा संचालित संस्था संकल्प द्वारा 'प्रयास' कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसके तहत ग्रामीण गरीब बच्चों एवं महिलाओं को कैंपस का भ्रमण तथा क्वाइन एग्जीबिशन में शिरकत करने का अवसर मिलेगा।

संयोजक मंडली में ये हैं शामिल

डॉ रामबाबू कोडाली, प्रो. एके सिंह, प्रो. आरएन महंती, प्रो. ए.कुमार, प्रो. पी.प्रसाद, प्रो. संजय कुमार, प्रो. नीता भारती, प्रो. अमित प्रकाश, प्रो. एचएल यादव, डॉ राजीव भूषण के अलावा छात्र योगेश गुप्ता, शशांक चंद्रायन, शुभम् तिवारी व गौरव चौधरी।

पहले प्रभा नाम से मनाया जाता था फेस्ट

एनआईटी जब आरआईटी था, तब वार्षिकोत्सव का आयोजन 'प्रभा' के नाम से होता था। इसमें इंजीनियरिंग संस्थानों के छात्र हिस्सा लेते थे।

बड़े प्लेटफॉर्म पर प्रतिभा दिखाने का अवसर

"ओजस संस्थान के लिए गौरवमयी आयोजन रहा है। इसमें छात्रों को एक बड़े प्लेटफॉर्म पर अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलता है। इस वर्ष 120 इंजीनियरिंग एवं मैनेजमेंट संस्थानों के छात्र शिरकत करेंगे।"डॉ रामबाबू कोडाली, निदेशक

X
mandira bedi in ojas 2014
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..