पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • 1 करोड़ 65 लाख से बन रहा अस्पताल

1 करोड़ 65 लाख से बन रहा अस्पताल

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स्वास्थ्य,चिकित्सा, शिक्षा परिवार कल्याण विभाग द्वारा पेटरवार प्रखंड के चलकरी बस्ती में 1 करोड़ 65 लाख की लागत से छह बेड का स्वास्थ्य उपकेंद्र का निर्माण किया जा रहा है। इसमें घटिया सामग्री इस्तेमाल करने का आरोप स्थानीय ग्रामीणों ने लगाया है। चलकरी दक्षिणी की पंसस सफीना खातून उनके प्रतिनिधि मो सिद्दकी अस्पताल के कार्यस्थल पर पहुंचे तो वहां बगैर ठेकेदार, बगैर मुंशी बगैर जेई के मजदूर काम में लगे हुए मिले। अस्पताल निर्माण में शिवा टीएमटी का इस्तेमाल किया जा रहा था जबकि झारखंड सरकार में भवन निर्माण के टाटा का टीएमटी लगाने का अप्रूव है। विदित हो टाटा टीएमटी का दर लगभग 55 हजार रुपए प्रति टन है। शिवा टीएमटी लगभग 40 हजार रुपए प्रति टन मिल जाता है। इस तरह ठेकेदार यहां प्रति टन 15 हजार रुपए की अतिरिक्त बचत कर काम को कमजोर कर रहा है। यहां चिमनी भट्टा की ईंट के स्थान पर बंगला भट्टा की ईंट इस्तेमाल किया जा रहा था। यहां दिखावे के लिए एक ट्रिप चिमनी भट्टा की ईंट बाहर में गिराई हुई मिली। इस संबंध में काम में लगे मिस्त्री विनोद मांझी ने बताया कि ठेकेदार ने कहा कि उस ईंट को बाहर के काम में लगानी है। अस्पताल में घटिया कार्य होने का आरोप मो सिद्दकी के अलावा मोहन मुर्मू, महेश तुरी, गजलु रजवार, सहदेव आदि ने जांच की मांग की है।

^कनीय अभियंता उमेश सिंह ने दूरभाष पर बताया कि मैं सप्ताह में दो तीन दिन कार्य निरीक्षण करने जाता हूं। उन्होंने बताया कि झारखंड सरकार से टाटा टीएमटी अप्रूव तो है लेकिन उक्त रड़ की जांच हमारे विभाग के चीफ इंजीनियर ने किया है। इसके बाद ही उक्त रड़ लगाया जा रहा है। उन्होंने स्वीकार किया कि बंगला भट्टा की ईंट ही लग रही है।

क्या कहते हैं अधिकारी

क्या कहता है ठेकेदार

^ठेकेदारसुनील शर्मा ने दूरभाष पर बताया कि हमलोग आईएसआई मार्का रड़ इस्तेमाल कर रहे हैं। यहां के बंगला भट्टा की ईंट मजबूत है, इसलिए उसे इस्तेमाल करते हैं।

160 रुपए हाजिरी

यहांकाम में लगी जीरामुनी, लालमुनि सहित अन्य मजदूरों ने बताया कि उन्हें मात्र 160 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से हाजरी दी जा रही है। वहीं राजमिस्त्री ने बताया कि उसे 350 रुपए की दर से हाजिरी मिलती है।

निर्माण कार्य का लगा शिलापट्‌ट।

निर्माण कार्य में लगे मजदूर।