पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • सियासत पर रियासत की पकड़

सियासत पर रियासत की पकड़

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तीसरी पीढ़ी भी राजनीति में

राजा रहे विधायक बेटा बने मुख्यमंत्री

ईचागढ़

सरायकेला

कोल्हान के राजघरानों से समर्थन मांगने आते हैं सभी दलों के प्रत्याशी

कोल्हान में ईचागढ़ राजघराने का राजनीतिक इतिहास गौरवमयी है। पातकुम स्टेट के नाम से पहचान रखनेवाले इस राजघराने का संबंध अब भी जनता के साथ बरकरार है। ईचागढ़ के राजा प्रभात कुमार आदित्य देव 1962 में पहली बार पटमदा विधानसभा से विधायक चुने गए। अखंड बिहार में यह चांडिल पूर्वी क्षेत्र था। राजा साहब वर्ष 1967 में भी पटमदा सीट से विधायक बने। उसके बाद ईचागढ़ विधानसभा के पहले विधायक 1985 में कांग्रेस पार्टी से चुने गए। राजा प्रभात कुमार आदित्य देव के पिताजी महाराजा शत्रुघ्न आदित्य प्रताप देव भी वर्ष 1972 में विधायक बने। राजा के एकमात्र पुत्र प्रशांत कुमार आदित्य देव अधिवक्ता का पेशा छोड़ अब भाजपा की राजनीति कर रहे हैं।

पोडाहाट राजमहल की दुर्लभ तस्वीर।