पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • एक नूर ते सब जग उपजया...

एक नूर ते सब जग उपजया...

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बहरागोड़ा : बहरागोड़ामें गुरुनानक जयंती मनाते लोग

मुसाबनी : गुरुद्वारामें मत्था टेकते लोग।

माटिहाना स्थित एनएच 6 स्थित गुरुद्वारे में गुरुग्रंथ साहिब का पाठ किया गया। इसके बाद श्रद्धालुआें के बीच प्रसाद का वितरण किया गया। इस मौके पर गुरुद्वारा कमेटी के गुरुदीप सिंह, जरनल सिंह कलवंत सिंह, जितेंद्र सिंह, प्रकाश कौर, तापस महापात्रा आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।

शहर के सुगनीबासा स्थित आनंद मार्ग विद्यालय परिसर में गुरुवार को एक कार्यक्रम का आयोजन कर गुरुनानक देव की जयंती मनाई गई। इस दौरान पुष्पार्पण कर उनकी वंदना की गई। इस मौके पर प्रधानाध्यापक सुनील कुमार महतो, शिक्षक सुशेन मंडल, अजीत महतो, सुमन साव, हरिशंकर महतो, खीरद माझी, दीपक महतो समेत अन्य विद्यार्थी मौजूद थे

गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी की ओर से गुरुवार की सुबह गुरुग्रंथ साहिब के अखंड पाठ से कार्यक्रम शुरू हुआ। महिला संघ द्वारा शबद कीर्तन प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में चेयरमैन गुरुवचन सिंह, अध्यक्ष अर्जुन सिंह, उपाध्यक्ष जागीर सिंह, महासचिव हरजीत सिंह कलशी, कोषाध्यक्ष अमरजीत सिंह, सरदार राजू सिंह, रंजीत सिंह सहित सीआरपीएफ के दर्जनों जवानों ने भी सहयोग किया।

ये थे मौजूद: प्रधानसेवादार हरभजन सिंह, चेयरमैन त्रिलोचन सिंह, सचिव अधिवक्ता बलवीर सिंह, कोषाध्यक्ष हरभजन सिंह , मीत प्रधान सुखदेव सिंह, बिल्लू, मनोहर सिंह, मंजीत सिंह, संतोष सिंह, परमजीत सिंह, जितेंद्र सिंह, नौजवान संघ के हीरा सिंह, परमजीत सिंह, पम्मे, विक्की, अमन सिंह, जसप्रीत सिंह, सलाहकारों में हरदयाल सिंह, चंदन सिंह, सूर्यन सिंह, वचन सिंह, ज्ञान सिंह, मनोहर सिंह आदि मौजूद थे।

घाटशिला : गुरूद्वारामें अखंड पाठ करते ग्रंथी।

घाटशिला : मउभंडारगुरूद्वारा के सामने उपस्थित श्रद्धालु।

भास्कर न्यूज |घाटशिला

घाटशिलाअनुमंडल के विभिन्न गुरुद्वारों में गुरुवार को सिखों के प्रथम गुरु गुरुनानक देव की जयंती धूमधाम से मनाई गई। इसे प्रकाशोत्सव के रूप में मनाया गया। मऊभंडार के गुरुद्वारा में अंतिम अरदास सुबह 10 बजे की गई। इसके बाद भजन कीर्तन का आयोजन हुआ। इसके बाद दोपहर में लंगर का आयोजन किया गया। इस मौके पर अनुमंडल के तीनों गुरुद्वारों मऊभंडार, बहरागोड़ा मुसाबनी में लोगों की काफी भीड़ देखी गई। इस मौके पर सिख समुदाय के अलावा स्थानीय जनप्रतिनिधियाें