पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • भाजपा से लक्ष्मण आज देंगे इस्तीफा

भाजपा से लक्ष्मण आज देंगे इस्तीफा

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विधानसभा चुनाव में टिकट बंटवारे से क्षुब्ध भाजपा के पूर्व विधायक लक्ष्मण स्वर्णकार अपने पद और भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से शुक्रवार सुबह रांची स्थित पार्टी प्रदेश पार्टी कार्यालय में प्रदेश संगठन महामंत्री राजेंद्र सिंह को इस्तीफा देंगे। इसके लिए पूरी तैयारी के साथ वे गिरिडीह से रांची प्रस्थान कर गए हैं। रांची जाने से पूर्व उन्होंने सिरसिया स्थित आवास पर एक प्रेस वार्ता अायोजित कर पत्रकारों को बताया कि उन्होंने 45 वर्षों तक भाजपा की सेवा की। प्रखंड अध्यक्ष से लेकर संगठन के चुनाव प्रदेश प्रभारी तक का पद संभाला। प्रभावी ढंग से उन्होंने लगातार पार्टी की सेवा की। लेकिन इस विधान सभा चुनाव में उन्हें गांडेय विधानसभा सीट से टिकट नहीं मिलने पर आक्रोशित होकर उन्होंने पार्टी के सभी पदों और प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने का निर्णय लिया है। वे एक थाली में पार्टी का संविधान, झंडा, पट्टा, टोपी और बेज के साथ थाली में इस्तीफा पत्र लेकर रांची रवाना हो गए हैं। इस्तीफा पत्र में कहा है कि वे 45 वर्षो से जपसंघ से भाजपा तक विभिन्न पदों मसलन प्रखंड अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष, प्रदेश उपाध्यक्ष, अनुशासन समिति के अध्यक्ष, संगठन चुनाव का प्रदेश प्रभारी पद पर रहकर प्रभावशाली तरीके से कार्य कर चुके हैं। आज वे मर्माहत होकर भाजपा से त्यागपत्र दे रहे हैं। कहा कि जिसने झंडा जलाया, पार्टी का श्राद्ध कर्म किया उसे पार्टी का अध्यक्ष बनाया। कहा कि प्रदेश नेतृत्व ने नक्सलवादी से लेकर सजा पाए व्यक्ति को उम्मीदवार बनाया।

कौन हैं लक्ष्मण स्वर्णकार

गांडेय प्रखंड के अहिल्यापुर निवासी लक्ष्मण स्वर्णकार ने 1967 में आरएसएस के प्रथम वर्ष प्रशिक्षित है। वे आरएसएस के दायित्वों का निर्वाह किया। 1969 मेंे जनसंघ पार्टी के मंडल अध्यक्ष बने। गौ हत्या के विरूद्ध बनारस में प्रभुदत्त ब्रह्मचारी के साथ आंदोलन करके बनारस जेल में बंद रहे। 1967 में सरदार भगत सिंह के छोटे भाई सरदार कुलवीर सिंह और नानाजी देशमुख के नेतृत्व में बंगलादेश को मान्यता दिलाने के लिए पाक दूतावास में आंदोलन के क्रम में दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद रहे। 1974 में आपातकाल में जेपी आंदोलन में मीसा के तहत 19 माह हजारीबाग जेल में बंद रहे। 1977 में गांडेय विधान सभा क्षेत्र से विधायक बने। 1982 में छोटानागपुर संभालपरगना के संगठन मंत्री रहे। 1985 में गिरिडीह जि