पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • आश्रम का स्थापना दिवस समारोह संपन्न

आश्रम का स्थापना दिवस समारोह संपन्न

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहरके न्यू बरगंडा स्थित शारदेश्वरी आश्रम के 68 वां स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित चार दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान के अंतिम दिन शुक्रवार को आश्रम में कई कार्यक्रम किए गए। इस दौरान कोलकाता से आई आश्रम की अध्यक्ष माता वंदनापुरी देवी के सानिध्य में श्रद्धालुओं ने आश्रम परिसर में हवन-पूजन कर माता शारदा के कई रूपों का आह्वान किया।

पूजा-अर्चना का दौर आश्रम में सुबह से ही शुरू हो गया था, जो दोपहर तक जारी रहा। माता वंदनापुरी के सानिध्य में पूजा संपन्न करने के बाद श्रद्धालुओं ने माता से कई मंत्रो की दीक्षा भी हासिल की। आस्था के साथ चले चार दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान के पहले दिन कोलकाता से आए श्रद्धालुओं ने भजनों के बीच माता दुर्गा के रूपों का बखान भी किया। जबकि दुसरे और तीसरे दिन भी बाहर के ही श्रद्धालुओं द्वारा नाट्य पेश किया गया था। वहीं अंतिम दिन श्रद्धालुओं ने माता से दीक्षा लेने के बाद देर शाम आश्रम परिसर में कई धार्मिक कार्यक्रम पेश किए। इस बीच कोलकाता से आए सुपो दा एंड पार्टी ने राम-कृष्णा शारदा नाम पर बांग्ला भजन पेश कर माता शारदा के चमत्कारों का खूब बखान किया।

माता के हैं कई रूप

शांतवातावरण में चल रहे स्थापना दिवस के कार्यक्रम को लेकर श्रद्धालुओं से माता वंदनापुरी देवी ने प्रवचर्न के क्रम में कहा कि माता के कई रूप समय-समय पर धरा पर अवतरण लेकर सृष्टि का कल्याण किया है। सरस्वती, लक्ष्मी और दुर्गा का रूप भक्तों के कष्टों को हरणे वाला रहा है। माता शारदा, स्वामी विवेकानंद और स्वामी परमहंस की उपासक माता वंदनापुरी देवी ने तीनों की आध्यात्म शक्तियों से श्रद्धालुओं को अवगत कराया। इधर अंतिम दिन कार्यक्रम में दिल्ली, पटना, बांकुडा और नवदद्वीप के उपासक आश्रम में मौजूद थे। जबकि स्थापना दिवस कार्यक्रम को सफल करने में आश्रम की उपासक श्यामुली पुरी देवी, बांसतिक देवी पुरी और नीलू दा का योगदान रहा।