• Hindi News
  • National
  • 45000 किसानों की फसल का होगा बीमा, कल से लगेंगे कैंप

45000 किसानों की फसल का होगा बीमा, कल से लगेंगे कैंप

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिलेमें राष्ट्रीय बीमा योजना खरीफ 2017 के लिए लगभग 45000 किसानों को फसल बीमा के लिए निबंधित करने का लक्ष्य है। इसकी प्राप्ति के लिए डीसी डॉ. मनीष रंजन ने बीमा कैंप लगाकर ससमय लक्ष्य प्राप्ति का निर्देश दिया। बीमा कैंप 16, 17 और 18 जुलाई को आयोजित किया जाएगा। सभी प्रखंडों में शतप्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति के लिए सभी बीडीओ को निर्देश दिया गया है।

डीसी ने बताया कि इसके लिए प्रखंडों में पदस्थापित प्रखंड सहकारिता प्रसार पदाधिकारी, प्रखंड कृषि पदाधिकारी, प्रखंड तकनीकी प्रबंधक, जनसेवक आदि के बीच पंचायत का बंटवारा कर किसानों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने को कहा गया है। कैंप में कृषक मित्र, लैंपस कर्मी और जनप्रतिनिधि भी उपस्थित रहेंगे। जिन किसानों का बैंक खाता नहीं है, उन्हें इस अवधि में बैंक खाता खोलने के लिए पंचायत भवन में बैंकिंग काॅरेस्पोंडेंट उपस्थित रहेंगे, जो तत्काल खाता खोलेंगे। कैंप के सफल संचालन के लिए जिला स्तरीय पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं। खूंटी, मुरहू और कर्रा प्रखंड के लिए सहायक निबंधक, सहयोग समितियां जगमनी टोपनो और जिला कृषि पदाधिकारी नरेश चौधरी को रनिया, तोरपा और अड़की में पर्यवेक्षण का कार्य करेंगे। इसके अतिरिक्त पंचायतों में होने वाले कैंप के लिएए भी पर्यवेक्षक की प्रतिनियुक्ति की गई है। डीसी ने बताया कि इस वर्ष खरीफ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अंतर्गत खूंटी जिला में किसान भाइयों के धान और मकई फसल का बीमा दी ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लि द्वारा संचालित किया जा रहा है।

बीमा कराने के लिए बीमा फाॅर्म, जमीन संबंधी कागजात, मुखिया द्वारा सत्यापित वंशावली-सह-भूमि स्व-घोषणा पत्र, आधार कार्ड और बैंक पासबुक की छायाप्रति की आवश्यकता होगी। लैंपस में बीमा फाॅर्म और वंशावली घोषणा पत्र निःशुल्क मिलता है। विदित हो कि राष्ट्रीय बीमा योजना खरीफ 2015 की क्षतिपूर्ति राशि खूंटी जिला के सभी 06 प्रखंडों में स्वीकृत है, जिसका भुगतान बीमित किसानों के खाता में बैंक द्वारा दिया जा रहा है।

प्रीमियम राशि

अगहनीधान के बीमा के लिए प्रीमियम राशि 490 रुपए प्रति एकड़ (बीमित राशि 24488 रुपए) ‌‌‌‌ भदई मकई के बीमा के लिए प्रीमियम राशि 363 रुपए प्रति एकड़ (बीमित राशि 18105 रुपए) है।

खबरें और भी हैं...