• Hindi News
  • National
  • मुआवजे के लिए ग्रामीणों ने की साढ़े चार घंटे तक सड़क जाम

मुआवजे के लिए ग्रामीणों ने की साढ़े चार घंटे तक सड़क जाम

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सड़कदुर्घटना में मृत सिसिलिया तिर्की और घायल ग्रेगोरी तिर्की को मुआवजा अन्य सहायता नहीं मिलने से आक्रोशित लोगों ने बुधवार को पुरनापानी के निकट सुबह नौ बजे से साढ़े चार घंटा के लिए सिमडेगा-कुरडेग मुख्य पथ जाम कर दिया।

डंपर की चपेट में आने से सिसिलिया की मौत हो गई थी और उसका पति घायल हो गया था। लेकिन पुलिस ने डंपर पकड़ा और ही उचित सहायता ही प्रदान की गई। लोगों ने कहा कि पिता के घायल होने और मां की मौत से असहाय हुई बेटी प्रिया तिर्की और बेटा आशीष तिर्की के लालन-पालन में परेशानी हो रही है। कांग्रेस नेता जोनसन मिंज ने कहा कि पदाधिकारियों की मिलीभगत से कुरडेग से अवैध रूप चिप्स तोड़कर खूंटी ले जाया जा रहा है। दुर्घटना को अंजाम देने वाले डंपर का नंबर देने के बावजूद जब्त नहीं किया गया है। जामस्थल पर जमाकर्ताओं के साथ मृतका की बेटी और बेटा भी मौजूद थे। इधर एसडीपीओ अमित कुमार सिंह और सीओ प्रवीण कुमार सिंह जामस्थल पहुंचे और घायल को समुचित इलाज कराने का भरोसा दिलाया। अधिकारियों के समझाने के बाद करीब साढ़े चार घंटे तक चला सड़क जाम दोपहर डेढ़ बजे समाप्त हुआ। जाम करने वालों में मजदूर नेता राजेश सिंह, कांग्रेस नेता अनूप केशरी, बिरंजन बाड़ा, वार्ड आयुक्त कुलदीप किंडो, पूर्व विधायक थियोडोर किड़ो, रावेल लकड़ा, नवीन वीरेंद्र तिर्की आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...