पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • अशोक मंडल के समर्थन में झामुमो ने किया रोड शो

अशोक मंडल के समर्थन में झामुमो ने किया रोड शो

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
झारखंडमुक्ति मोर्चा के नेता अशोक मंडल के जेल से निकलने तथा निरसा विधानसभा के टिकट मिलने की खुशी में झामुमो नेताओं ने तेतुलिया मोड़ से उनका भव्य स्वागत कर विशाल जुलूस निकाला। कार्यकर्ताओं ने अशोक मंडल को माला पहनाकर उनका स्वागत किया तथा खुले जीप में उन्हें तेतुलिया से लेकर रोड शो किया। जुलूस तेतुलिया एनएच- टू से होते हुए गोपालगंज मोड़, देवियाना होते हुए निरसा चौक पहुंचा। लोगों को संबोधित करते हुए झामुमो नेता अशोक मंडल ने कहा कि निरसा की जनता लाल पार्टी की गुलामी से स्वतंत्र होने की मन बना लिया है। यहां के वर्तमान जनप्रतिनिधि गरीब आदिवासियों को सिर्फ छलने का काम कर रहे हैं। ओम बेस्को में जनता को हक दिलवाने के बजाए वे सिर्फ गरीब आदिवासियों का जमीन हड़प निर्दोष लोगों पर मामला दर्ज करवा रहे हैं। सिर्फ इतना ही नहीं टोल प्लाजा पर भी राजनीति कर रहे हैं। निरसा की जनता ने वैसे लोगों को पहचान लिया है और इस बार के चुनाव में उन्हें सबक सिखाएगी।







कार्यक्रम को सफल बनाने में दुलाल महतो, नांटू गोस्वामी, भोला शर्मा, रामरंजन मिश्रा आदि की भूमिका सराहनीय रही।

टुंडी |पूर्वी टुंडीप्रखंड झामुमो का कार्यकर्ता सम्मेलन गुरुवार को चालधोवा में अध्यक्ष रामचंद्र मुर्मू की अध्यक्षता में हुआ। इसमें झामुमो प्रत्याशी मथुरा प्रसाद महतो की उपस्थिति में रणनीति तय की गई और कार्यकर्ताओं से क्षेत्र में जुट जाने की अपील की गई। बैठक में पवन महतो, प्रभू हेम्ब्रम, अनवर अंसारी, खुदी राम पंडित, अगनू महतो आदि मौजूद थे।

झामुमो का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित

राजगंज|राजगंज हाईस्कूलके समीप लगे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शिबू सोरेन का होर्डिंग गुरुवार की सुबह राजगंज पुलिस ने हटा दिया। राजगंज थानेदार राजदेव शर्मा होर्डिंग को थाना ले आए हैं। मालूम हो कि दैनिक भास्कर के 6 नवंबर के अंक में सार्वजनिक स्थलों से नहीं हटे हैं पोस्टर शीर्षक से इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। खबर प्रकाशन के बाद भी संबंधित राजनीतिक दल के लोग निष्क्रिय बने रहे, लेकिन राजगंंज पुलिस हरकत में आई। थानेदार ने इसके अलावा क्षेत्र के विभिन्न जगहांे पर घूमकर अन्य पार्टी के झंडा को भी हटा दिया है। एक रात में सूबे के मुख्यमंत्री की होर्डिंग की तस्वीर ही बदल गई। उक्त होर्डिंग के स्थान पर धनबाद खेल महोत्सव का पुराना होर्डिंग लगा दिया गया। ब