पतरातू

--Advertisement--

कल्पतरू में कौशल विकास कार्यक्रम शुरू हुआ

कुटीर उद्योगों के जरिए महिलाओं को बनाया जाएगा स्वावलंबी अंतर्राष्ट्रीयमानवाधिकार संरक्षण संगठन ने मंगलवार...

Dainik Bhaskar

Jan 10, 2018, 07:30 AM IST
कुटीर उद्योगों के जरिए महिलाओं को बनाया जाएगा स्वावलंबी

अंतर्राष्ट्रीयमानवाधिकार संरक्षण संगठन ने मंगलवार को आदर्श क्लब में मानव अधिकार से संबंधित जागरूकता शिविर का आयोजन किया। इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि संगठन के प्रदेश सचिव मनसूराम लोहरा ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि यह संगठन लगातार जनहित में जनकल्याण का कार्य करती रही है। मानव के वास्तविक अधिकारों से भी उन्हें अवगत कराती है। शोषित पीड़ित लोगों को सुरक्षा प्रदान करती है। लोगों को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहने की आवश्यकता है।

संगठन लोगों को हर प्रकार से मदद करने के लिए तैयार है। कहा कि महिलाओं को एनजीओ के माध्यम से स्वरोजगार से जोड़ने के लिए छोटे छोटे कुटीर उद्योग के जरिए रोजगार के लिए प्रेरित करती है। मौके पर हजारीबाग सचिव कामेश्वर साव, सह सचिव सचिन सिंह, अध्यक्ष सुनैना देवी, राजेंद्र सिंह, राजकपूर सिंह, नारायण मुंडा, राम सहायक उरांव, बिहारी बड़ाईक, सुबोध सिंह, रूस्तम अंसारी, नीतू टोप्पो, सीमा, सोनी, रेखा प्रजापति, रविंद्र मुंडा, संतन प्रजापति, परमजीत कौर, बिजेंद्र मुंडा आदि शामिल थे।

पतरातू | पीटीपीएसके हेसला पंचायत स्थित कल्पतरू औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्र में मंगलवार को गारमेंट मेन्यूफेक्चरिंग पर आधारित उद्यमिता सह कौशल विकास कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम में आए एमएसएमई के सहायक निदेशक सुभाष आयंगर ने कहा कि किसी भी राष्ट्र के लिए उद्यमी उसकी प्राण है। छोटे छोटे उद्यम के विकास से ही देश का विकास संभव है। उन्होंने बताया कि 30 दिनों तक यह प्रशिक्षण सत्र चलाया जाएगा। इसमें 25 महिलाओं को पूर्ण रूप से रोजगार परक प्रशिक्षण दिया जाएगा। ताकि महिलाएं स्वावलंबी होकर रोजगार से जुड़ सकें। मौके पर एके गिरी, संजीत कुमार, अमित कुमार ठाकुर, सरफराज अहमद, प्रभात कुमार, साजनारायण, प्रणताचार्य, चंदन सिंह, चित्रा झा, लोकनाथ, बैजनाथ, नवीन कुमार सिंह आदि मौजूद थे।

X
Click to listen..