पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • डिवाइस चोरी मामले में डीडीएम कार्यालय कक्ष में जड़ा ताला

डिवाइस चोरी मामले में डीडीएम कार्यालय कक्ष में जड़ा ताला

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गलत आचरण रखने पर सीएस की हुई थी शिकायत

स्वास्थ्य मंत्री ने पूर्व में भी खुलवाया था ताला

डीडीएम ने एसपी को दिए गए आवेदन में कहा है कि सीएस द्वारा १० जुलाई को पहली बार ताला लगाया गया था, जिसे 17 जुलाई को स्वास्थ्य मंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह के मौखिक निर्देश पर खुलवाया गया था। आवेदन में कहा गया है कि सीएस ने लातेहार थाना में बायोमैट्रिक डिवाइस चोरी की प्राथमिकी कांड संख्या १९९/१४ के तहत दर्ज कराई है। जिसकी जानकारी मुझे चार नवंबर को डाटा मैनेजर वेदप्रकाश द्वारा मिली। मैं पांच नवंबर को वस्तुस्थिति की जानकारी लेने गई तो देखा कि कार्यालय कक्ष के ग्रिल में ताला जड़ दिया गया। मेरे कार्यालय कक्ष में संबंधित उपकरण के साथ अन्य महत्वपूर्ण संचिकाएं भी रहती है। मुझे भय है कि इस तरह की घटना दोबारा दर्शायी जा सकती है तथा मुझ पर आरोप लगाया जा सकता है।

सीएस पर डीडीएम ने अपने प्रति गलत आचरण की शिकायत विभाग के उच्चाधिकारियों, स्वास्थ्य मंत्री राज्य महिला आयोग से कर चुकी है। इसी कारण दुर्भावना से ग्रसित होकर सीएस मेरे विरुद्ध भी साजिश रचकर फंसा सकते हैं।

डीडीएम कार्यालय में ताला जड़ने की जानकारी लेते इंस्पेक्टर थानेदार और डीडीएम कार्यालय कक्ष में जड़ा गया ताला।

भास्कर न्यूज | लातेहार

सदरअस्पताल स्थित जिला डाटा प्रबंधक (डीडीएम) रश्मि आनंद के कार्यालय में सिविल सर्जन डॉ. कन्हैया प्रसाद के निर्देश पर दूसरी बार ताला लगा दिया गया है। ऐसा होने पर डीडीएम गुरुवार को जिले के पुलिस अधीक्षक डॉ. माइकल राज एस से मिलीं आवेदन देकर ताला खुलवाने का अनुरोध किया।

एसपी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए लातेहार सर्किल इंस्पेक्टर विवेकानंद ठाकुर सदर थानेदार रमेश कुमार सिंह को ताला खुलवाने का निर्देश दिया। गुरुवार की संध्या ४:30 बजे दोनों पदाधिकारी सदल बल सदर अस्पताल परिसर स्थित डीडीएम कार्यालय पहुंचे सीएस को ताला खोलने का निर्देश दिया तो सीएस डॉ. कन्हैया ने कहा कि आज सरकारी छुट्टी है डीपीएम जया रेशमा खाखा छुट्टी में गुमला चली गई हैं।

इसपर पुलिस पदाधिकारियों ने शुक्रवार को पुलिस की उपस्थिति में ही ताला खुलवाने की बात कही। उन्होंने कहा कि जिस वक्त ताला खुलेगा, उस वक्त सीएस, डीपीएम, एचएम, डैम के अलावा डीडीएम मीडियाकर्मी भी मौजूद रहेंगे। अब सवाल उठता है कि जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त मुकेश कुम