पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • श्रीलता ने गरीबों और वंचितों के लिए आजीवन संघर्ष किया: अंशुमन

श्रीलता ने गरीबों और वंचितों के लिए आजीवन संघर्ष किया: अंशुमन

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रांची | एपवाकी पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीलता स्वामीनाथन महिला आंदोलन को गति देने कई बार झारखंड आईं। जनसंस्कृति मंच की सांस्कृतिक टीम प्रेरणा के गठन में उनकी अहम भूमिका रही। उन्होंने आदिवासी लड़कियों को इसके लिए ट्रेंड भी किया था। चेन्नई के एक संभ्रांत घर से आने के बावजूद श्रीलता ने गरीब, दलित और वंचितों के आजीवन संघर्ष किया। ये बातें जसम के अनिल अंशुमन ने श्रीलता की स्मृति में शहीद महेंद्र सिंह भवन में सोमवार को हुई सभा में कही। आयोजन माले, एपवा और जसम ने मिलकर किया था। शुभेंदू सेन ने कहा कि श्रीलता का जाना महिला आंदोलन के लिए गहरी क्षति है। भुवनेश्वर केवट ने कहा कि सीएनटीसंशोधन के खिलाफ संघर्ष तेज कर ही हम उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि दे सकते हैं। मौके पर सिनगी खलखो, शांति सेन, ऐति तिर्की, सोनी तिरिया, जुगल पाल, सुखदेव प्रसाद, सुबोध, सुदामा ने भी विचार रखे।

खबरें और भी हैं...