• Hindi News
  • National
  • ऑक्सफोर्ड एन स्कूल में लघु नाटिका के माध्यम से दिया बेटियां बचाने का संदेश

ऑक्सफोर्ड एन स्कूल में लघु नाटिका के माध्यम से दिया बेटियां बचाने का संदेश

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ऑक्सफोर्ड(एन) स्कूल, बहूबाजार में बुधवार को एनुअल डे सेलिब्रेट किया गया। इस अवसर पर आयोजित विविध कार्यक्रमों में 210 बच्चे शामिल हुए। सबसे खास रही स्कूल की शिक्षिका शालीनिता और छात्रा स्वर्णिमा द्वारा प्रस्तुत सेव गर्ल चाइल्ड लघु नाटिका, जिसमें अपनी प्रस्तुति से बेटी बचाने का संदेश दिया। उन्होंने साथ गाया री चिड़िया... नन्ही सी चिड़िया।

इस मौके पर बच्चों ने सांता क्लॉज, डोरेमन, छोटा भीम के साथ जमकर डांस किया। नर्सरी के बच्चों ने क्लासिकल डांस प्रस्तुत किया। बेबी प्री नर्सरी ने आई एम सो हैप्पी से पिता-माता के प्रति आभार जताया। बच्चों ने बांग्ला फोक डांस, राजस्थानी काल बेलिया, शुगर एंड हनी डांस, स्पेनिश धुन पर डांस, अरेबियन धुन पर डांस, अफ्रिकन धुन पर डांस, चंदा चमके, ब्राजील के गीत पर डांस किया। उन्होंने भांगड़ा पर भी ताल मिलाया। इससे पहले मुख्य अतिथि कल्पना सोरेन ने समारोह का उद्घाटन किया। प्रिंसिपल शिल्पी राठौर ने स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की।

ऑक्सफोर्ड एन स्कूल के वार्षिकोत्सव पर प्रस्तुति देते बच्चे।

बच्चों की हर प्रस्तुति पर तालियां बजाते दिखे अतिथि और स्टूडेंट्स के अभिभावक।

बच्चों ने आधुनिकता के साथ पुरातन का मिश्रण किया। उन्होंने 50 के दशक के हिंदी फिल्मी गीत शोला जो भड़के... मुड़ मुड़ के ना देख... आदि गीतों को उसी अंदाज में पेश करने की कोशिश की। जंगल बुक की मोगली की करतूत भी यहां देखने को मिली। कार्यक्रम में इशान्वी, मेधाली, अनाबिया, जीवल, सौम्या, अनुष्का, निष्का, वैष्णवी, श्री राम एमानुअल, पलक, अदिति, स्वर्णिमा, आकृति, उत्सव, अभिज्ञान, मेहुल, अपेक्षा, दीक्षा, सक्षम, एंजेल, अद्विक आदि ने भाग लिया।

नन्हे बच्चों की मासूमियत भरी एक-से-बढ़कर एक प्रस्तुति ने दर्शकों को घंटों स्कूल के सभागार में बांधे रखा।

खबरें और भी हैं...