पेज एक का शेष

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लॉकरसे मिले रुपए में सभी 500 और 1000 के पुराने नोट हैं, जिसे नोटबंदी से पहले लॉकर में रखा गया था। आयकर विभाग ने 29 नवंबर को डॉ. भट्टाचार्या के रांची, कोलकाता और पटना में आवास और इनफर्टिलिटी सेंटर पर छापा मारा था। लगातार तीन दिन तक कार्रवाई चली। इस दौरान रांची के आवास और सेंटर से 55 लाख रुपए बरामद हुए थे। कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी जब्त किए गए थे। इसके बाद विभाग ने डॉ. के आवास और लॉकर को सील कर दिया था। आयकर विभाग ने अब तक डॉ. जया के आवास और सेंटर से 1.89 करोड़ रुपए जब्त किए हैं। इसमें बोकारो से करीब 28 लाख, रांची आवास और सेंटर से करीब 55 लाख और बैंक लॉकर से 1.09 करोड़ रुपए शामिल हैं।

बोकारोमें कार से 28 लाख के नोट पकड़े जाने पर शुरू हुई थी छापेमारी : पुलिस22 नवंबर को बोकारो के सेक्टर 11 के झारखंड मोड़ के पास वाहनों की जांच कर रही थी। इस दौरान पुलिस ने दो कारों को पकड़ा। इनमें 27.63 लाख रुपए मिले। ये रुपए डॉ. जया के थे, जो 500 और 1000 के नोटों में थे। ये रुपए डॉ. जया के रांची स्थित इनफर्टिलिटी सेंटर से कोलकाता के सलीमपुर भेजे जा रहे थे। रांची सेंटर के केयर टेकर मोइउद्दीन खान ये रुपए ले जा रहा था। पुलिस ने रुपए पकड़े जाने की जानकारी आयकर विभाग को दी। विभाग के अधिकारियों ने मोइउद्दीन खान से रुपए के बारे में लंबी पूछताछ की। इसके बाद डॉक्टर जया भट्‌टाचार्या के आवास और सेंटर पर छापेमारी की गई। इस दौरान विभाग को कई महत्वपूर्ण दस्तावेज, बैंक अकाउंट और लॉकर्स के कागजात मिले थे। इन्हीं दस्तावेजों के आधार पर आयकर विभाग कार्रवाई कर रहा है। फिलहाल दो लॉकर्स की ही जांच हो पाई है।

खबरें और भी हैं...