मृत विवाहिता का फोन ऑन करने में जुटी पुलिस, पटना में निकला जनाजा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रांची. डोरंडा के रहमत कॉलोनी में मृत विवाहिता शाइस्ता का मोबाइल फोन पुलिस ने गुरुवार की रात जब्त कर लिया था। मोबाइल में पैटर्न लॉक है, इस वजह से फोन खुल नहीं पा रहा है। पुलिस लॉक तो खुलवा सकती है, पर कहीं डेटा डिलीट  होने के डर से ऐसा नहीं कर रही है। पुलिस सीडीआर निकालने का प्रयास कर रही है।
 
शाइस्ता के पति आफताब को शुक्रवार  शाम दुबई से रांची पहुंचना था, पर देर रात तक नहीं पहुंचे थे। डोरंडा पुलिस ने शुक्रवार को  शाइस्ता के ससुराल पहुंच कर घर के लोगों से पूछताछ की। मामले की जांच हटिया डीएसपी कर रहे हैं। शुक्रवार शाम चार बजे  शाइस्ता और उसके पिता हशमत अली का जनाजा  पटना के फुलवारीशरीफ से निकला। घर (मुंगेर) से पूरा परिवार पटना आ गया था। मोहल्ले के लोग सुबह ही पिता-पुत्री के शव के अंतिम दर्शन के लिए उनके घर पर जुट गए थे। घर से एकसाथ दो जनाजा निकलते ही  मुहल्ले के लोगों की आंखें भर आयीं। 

शाइस्ता के भाई नासिर ने बताया, मां की मौत काफी पहले हो गई थी,जब सभी भाई-बहन काफी छोटे  थे। वे सरकारी स्कूल में टीचर थीं। मां की जगह पिता हशमत अली को नौकरी मिली थी। उन्होंने काफी मेहनत से सभी भाई-बहनों को पढ़ाया-लिखाया था। 
 
दोषी जल्द गिरफ्तार होंगे

एसएसपी कुलदीप द्विवेदी ने कहा कि  मामले की जांच चल रही है। कई लोगों से पुलिस ने पूछताछ की है। थानेदार को जांच में किसी भी तरह की कोताही नहीं बरतने का आदेश दिया गया है। जल्द ही दोषियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।
खबरें और भी हैं...