ये हैं 1 से 25 लाख तक के ईनामी 11 उग्रवादी, जिंदा या मुर्दा पकड़ने का आदेश

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रांची. राज्य के कुछ जिलों में पीएलएफआई उग्रवादियों की बढ़ती गतिविधियों  पर अंकुश लगाने के लिए डीजीपी डीके पांडेय ने कड़े निर्देश जारी किए हैं। कोबरा के जवान पीएलएफआई  उग्रवादियों पर  नकेल कसेंगे। डीजीपी के निर्देश पर रांची प्रक्षेत्र के डीआईजी अमोल वेणुकांत होमकर ने सोमवार को पांच जिलों के एसपी को पीएलएफआई के चिह्नित 11 मोस्ट वांटेड उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए ठोस कदम उठाने का आदेश दिया है। 

उन्होंने योजनाबद्ध तरीके से अभियान चलाकर वांटेड उग्रवादियों को जिंदा या मुर्दा पकड़ने प्रभावित इलाकों में प्रचार- प्रसार अभियान चलाकर आमजनों को जागरूक करने की बात कही है। आम लोगों से अपील की गई है कि  जो भी इनामी उग्रवादी के बारे में सूचना देंगे, उनका नाम गुप्त रखा जाएगा। डीआईजी ने कहा कि किसी भी हाल में इलाके में पीएलएफआई उग्रवादियों का विस्तार नहीं होने दिया जाएगा।
 
ये हैं मोस्ट वांटेड 11 उग्रवादी
उग्रवादी    इनाम 
दिनेश गोप    25 लाख 
मार्टिन केरकेट्टा    15 लाख 
गुज्जु गोप    10 लाख 
संतोष यादव    10 लाख 
कारगिल यादव     10 लाख 
समीर पात्रो    10 लाख 
जगेश्वर    2 लाख 
आकाश    2 लाख 
विजय डांग    2 लाख 
सचित सिंह    2 लाख 
राधा नायक    1 लाख
 
अभियान के लिए अलग-अलग टीम
पीएलएफआई के 11 मोस्ट वांटेड उग्रवादियों की धर पकड़ के लिए पांच जिलों में पुलिस की अलग -अलग टीम बनाई गई है, जो लगातार उग्रवादियों की तलाश में अभियान चला रही है। अभियान में सीआरपीएफ एवं कोबरा जवानों को भी शामिल किया गया है। उग्रवादियों के गढ़ खूंटी जिले में डीआईजी के नेतृत्व में भी जंगलों में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। ऑपरेशन के दौरान अब तक कई उग्रवादियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।
खबरें और भी हैं...