पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • विज्ञान केंद्र से नहीं मिल रहा ज्ञान

विज्ञान केंद्र से नहीं मिल रहा ज्ञान

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
28फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस है। विज्ञान को लोकप्रिय बनाने और लोगों में वैज्ञानिक सोच पैदा करने के उद्देश्य से इस दिवस को पूरे देश में मनाया जाएगा। सरकारी गैर-सरकारी शिक्षण संस्थानों में कार्यक्रमों के आयोजन होंगे। लेकिन रांची के चिरौंदी में छात्र-छात्राओं को साइंस और उसकी टेक्नोलॉजी को मॉडल के जरिए बताने और समझाने के लिए तैयार किया गया साइंस सेंटर बदहाल होता जा रहा है। 12.5 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किए गए इस सेंटर को देश का 25वां साइंस सेंटर होने का भी गौरव प्राप्त है। लगभग 13 एकड़ में फैले इस सेंटर को देखने के लिए राज्य भर से स्टूडेंट्स आते रहते हैं। लेकिन विज्ञान के पूरे की बजाए अधूरा ज्ञान ही उनको मिल रही है।

वीसीरमन की खोज

भारतीयवैज्ञानिक प्रोफेसर चंद्रशेखर वेंकट रमन ने कणों की आणविक और परमाणविक संरचना का पता लगाया। 1930 में नोबेल पुरस्कार मिला। इसलिए समाज में वैज्ञानिक सोच पैदा करने के उद्देश्य से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा ‘राष्ट्रीय विज्ञान दिवस’ मनाया जाता है।

एनसीएसएम को भेजी है सूची

नेशनल काउंसिल ऑफ साइंस म्यूजियम को सेंटर में खराब मॉडल की सूची भेज दी गई है। केंद्र से अभी फंड नहीं मिला है। फंड मिलने पर एनसीएसएम द्वारा इसे ठीक कर दिया जाएगा। साइंस पार्क के मॉडल को तारामंडल में लगाने के लिए हटाया जा रहा है। आरएसचौधरी, क्यूरेटरसह इंचार्ज

साइंस सेंटर का बाहरी भवन, जो देखने में खूबसूरत है। लेकिन अंदर का हाल बदहाल है। देखरेख के अभाव में कई उपकण खराब हो रहे हैं।

साइंस गार्डेन की ब्यूटी खत्म

झारखंड के संसाधनों की अधूरी जानकारी