पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • चैंबर कार्यसमिति भंग

चैंबर कार्यसमिति भंग

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ञ्चएक सप्ताह के भीतर नए पदाधिकारी चुने जाएंगे, तब तक कमान संभालेंगे पूर्व अध्यक्ष
भास्कर न्यूज -!- लोहरदगा
झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज की जिला इकाई कार्यकारिणी समिति को भंग कर दिया गया है। यह अहम फैसला अध्यक्ष विजय जायसवाल की अकर्मण्यता से नाराज कार्यकारिणी सदस्यों ने मंगलवार को गुदरी बाजार स्थित महादेव लाल खेमराज स्मृति भवन में हुई बैठक में लिया। बैठक की अध्यक्षता चैंबर के पूर्व अध्यक्ष कमल प्रसाद केशरी
ने की।
फैसले के मुताबिक अध्यक्ष सहित पदाधिकारियों के सभी पदों पर सर्वसम्मत चुनाव एक सप्ताह के भीतर किया जाना है। तब तक बतौर पूर्व चुनाव पदाधिकारी केशरी ही चैंबर की कमान संभालेंगे। उन्होंने बैठक के बाद मीडिया को बताया कि अध्यक्ष पर कर्तव्यहीनता के आरोप के बाद एक माह का समय पिछली बैठक में दिया गया था लेकिन इस दौरान भी वे चैंबर की नैया के खेवैया नहीं बन पाए। इससे नाराज 12 कार्यकारिणी सदस्यों ने पिछले दिनों हस्ताक्षरयुक्त पत्र देकर कार्यसमिति भंग करने की मांग की थी। इसी के आलोक में सचिव रितेश कुमार द्वारा बैठक बुलाई गई थी। सदस्यों ने एक स्वर में कहा कि अध्यक्ष सबको साथ लेकर चलने में अक्षम साबित हुए, उन्होंने अपने व्यवहार से कुछ सदस्यों के सम्मान को ठेस पहुंचायी, अंतिम रूप से मौका दिए जाने पर भी वे सदस्यों के साथ सामंजस्य स्थापित नहीं कर सके। अध्यक्ष की गैर मौजूदगी के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सचिव ने लिखित व मौखिक दोनों प्रकार से सूचना उन्हें दी थी। इसके बावजूद बैठक की सूचना से इंकार करते हुए वे उपस्थित नहीं हुए।
इस वजह से संवैधानिक प्रक्रियाओं के तहत सदस्यों के बहुमत वाले निर्णय का सम्मान करते हुए कार्यसमिति को भंग किया गया है। दो एक दिनों में आपसी सामंजस्य स्थापित कर पदाधिकारियों के चुनाव के लिए माहौल बनने पर बैठक बुलाकर चैंबर कार्यसमिति पुन: गठित की जाएगी। बैठक में सचिव रितेश कुमार ने सदस्यों के विरोध को जायज बताकर उनका समर्थन करते हुए अपना इस्तीफा सौंपा, जिसे स्वीकृति भी मिली। उपाध्यक्ष अभय वर्मा बैठक में शामिल नहीं हुए लेकिन उन्होंने पत्र भेजकर पद व सदस्यता दोनों से इस्तीफा देने की बात कही। इसपर निर्णय फिलहाल स्थगित रखा गया है। बैठक में रितेश कुमार, उदय कुमार केशरी, अभय अग्रवाल, दीपक पोद्दार, दीपक सर्राफ, सुमित बर्मन, दिनेश प्रसाद साहू, नीरज कुमार, पीयूष कुमार केशरी, शैलेश कुमार, अरुण कुमार शामिल हुए। सदस्य विनोद कुमार ने अपनी अनुपस्थिति के लिए कारण बताते हुए पत्र भिजवाकर बहुमत के साथ चलने की बात कही थी।