• Hindi News
  • Cross Pakistan Border And Take Revenge, Says Shivsena

पाकिस्‍तान का आरोप- भारत ने ली एक और सैनिक की जान, LOC पर फिर फायरिंग

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पाकिस्तान ने गुरुवार को भारतीय सेना की फायरिंग में अपने एक सैनिक की मौत का दावा किया। हालांकि भारत ने इसकी कोई पुष्टि नहीं की है। समाचार एजेंसी रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक घटना कश्मीर के बट्टल सेक्टर की है। पाकिस्तानी सेना ने दावा किया है कि अपनी पोस्ट की रक्षा कर रहे उसके सैनिक पर भारत की ओर से फायरिंग की गई जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई। वहीं शाम पांच बजे से पुंछ में के कई सेक्टरों में एक बार फिर फायरिंग शुरू हो गई।
वहीं पाकिस्तान ने भारत के साथ अंतरराष्ट्रीय व्यापार के रास्ते भी बंद कर दिए हैं। पाकिस्तान ने गुरुवार को व्यापारिक ट्रकों के लिए भी अपनी सीमा के दरवाजे नहीं खोले। पुंछ के ही चक्का-दा-बाग से पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर जाने वाले 25 ट्रकों के लिए पाकिस्तान ने अपनी सीमा के दरवाज़े नहीं खोले, जिसके बाद करोडों का माल लेकर ट्रकों को वापस पुंछ आना पड़ा। ट्रक चालकों के मुताबिक इन ट्रकों में मुख्यता टमाटर भरे थे, और अब उन्हें यह चिंता सता रही है कि यह टमाटर पड़े पड़े सड जाएंगे।
इसी बीच खबर है कि सीमा पर तनाव कम करने के लिए भारत ने पाकिस्तान के सामने फ्लैग मीटिंग करने की पेशकश की है। इससे पहले सेना ने अपने जवानों की शहादत पर तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए पाकिस्तान को चेतावनी दी है। डीजी (मिलिट्री ऑपरेशन) लेफ्टिनेंट जनरल विनोद भाटिया ने पाकिस्तान के डीजी (एमओ) से 48 घंटों के भीतर दूसरी बार बातचीत करते हुए कड़ा संदेश दिया है।
लेकिन सेना के सीनियर कमांडरों का कहना है कि पाकिस्तान की ओर से उकसावे भरी कार्रवाई के बावजूद वे लोग गुस्से में जवाब नहीं देंगे। इसकी जगह सेना सही वक्त का इंतजार करेगी ताकि पाकिस्तान को माकूल जवाब दिया जा सके। सूत्रों के मुताबिक डीजीएमओ ने मेंढर जैसी घटना फिर से होने पर गंभीर नतीजे भुगतने की चेतावनी दी है।
पाकिस्तानी सेना को यह भी बता दिया गया है कि शहीद सैनिकों के शवों को छत-विक्षत करना किसी भी पेशेवर सेना के कायदों के खिलाफ है। भारतीय सेना की ओर से पाकिस्तानी सेना को पूरे घटनाक्रम का ब्योरा भी दिया गया है। सेना के सूत्रों के मुताबिक सात सदस्यों वाली सेना की पेट्रोल पार्टी जम्मू से 220 किलोमीटर दूरी पर मौजूद मेंढर में घने कोहरे के बीच सुबह 11 बजे पेट्रोलिंग कर रही थी। पेट्रोलिंग पार्टी बाड़ से आगे थी, लेकिन वह भारतीय क्षेत्र में ही थी। लांस नायक हेमराज और सुधाकर सिंह इस पेट्रोलिंग पार्टी के स्काउट (पार्टी के आगे-आगे चलने वाले जवान) थे। सेना के स्थानीय कमांडरों का कहना है कि हो सकता है कि पाकिस्तानी कमांडो टीम भारतीय सीमा में घुसकर घात लगाकर बैठी हो। जब पाकिस्तानी कमांडो टीम ने सुधाकर और हेमराज को देखा तो फायरिंग शुरू कर दी। भारतीय पेट्रोलिंग पार्टी ने भी जवाबी फायरिंग की। लेकिन हेमराज और सुधाकर 30 मिनट की शुरुआती फायरिंग में ही शहीद हो गए। बाद में उनके शव बरामद किए गए। सेना की उत्तरी कमान को लगता है कि पाकिस्तान की 29 वीं बलोच रेजिमेंट ने भारतीय सीमा में कार्रवाई को अंजाम दिया और पाकिस्तान के स्पेशल सर्विसेज ग्रुप ने भारतीय जवानों पर हमला किया।
वहीं पाकिस्तानी विदेश मंत्री हीना रब्बानी खार का मानना है कि मौजूदा तनाव से शांतिवार्ता पर असर नहीं पड़ेगा। खार ने एक पाकिस्तानी टीवी चैनल से कहा कि एलओसी पर युद्धविराम के कथित उल्लंघन की जांच के लिए पाकिस्तान ने भारत व पाकिस्तान के लिए संयुक्त राष्ट्र सैन्य पर्यवेक्षक समूह (यूमएनएमओजीआईपी) से सम्पर्क किया है।
आगे की स्लाइड में पढ़िए, किस तरह भड़क गई शिवसेना