• keep this 3 things in mind for family management.
--Advertisement--

​ ये 3 बातें याद रखेंगे तो कभी नहीं होगा पति-पत्नी के बीच विवाद

पति-पत्नी एक गाड़ी के दो पहिए होते हैं। इन दोनों के बीच सामंजस्य होना बहुत जरूरी होता है।

Danik Bhaskar | Nov 23, 2017, 05:00 PM IST

पति-पत्नी एक गाड़ी के दो पहिए होते हैं। इन दोनों के बीच सामंजस्य होना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि अगर पति-पत्नी में आपसी सांमजस्य नहीं होगा तो गृहस्थी की गाड़ी पटरी से उतर सकती है। इसका असर पति-पत्नी के भविष्य पर तो होता ही है साथ ही बच्चों के वर्तमान तथा भविष्य पर भी इसका बुरा असर पड़ता है।
यदि पति-पत्नी दोनों ही कामकाजी हैं तो पत्नी चाहती है कि उसे भी घर-परिवार में वैसा ही सम्मान मिले जैसे पति को मिलता है, जबकि पति के विचार इस मामले में अलग हो सकते हैं। पति-पत्नी के टकराव के और भी कई कारण हो सकते हैं। अगर आपके साथ भी यही समस्या है कि इन बातों का ध्यान रखें-

1. एक-दूसरे की भावनाओं को समझें

पति-पत्नी का रिश्ता प्रेम व विश्वास पर टिका होता है। इसलिए यह जरूरी है कि वे दोनों एक-दूसरे की भावनाओं को न सिर्फ समझे बल्कि उसका सम्मान भी करें। यदि पति किसी कारणवश पत्नी की इच्छाओं की पूर्ति नहीं कर पा रहा हो तो पत्नी पति पर अनावश्यक दबाव न बनाएं।

अन्य 2 बातें जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-

तस्वीरों का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

2. एक-दूसरे को सम्मान दें

अक्सर देखने में आता है कि पति अपनी पत्नी को उचित सम्मान नहीं देते। बात-बात पर पत्नी के ऊपर गुस्सा करना, अपशब्द कहना या हाथ उठाने से पत्नी के मन में भी पति के प्रति सम्मान कम हो जाता है। ऐसी स्थिति में पति-पत्नी का व्यवहार एक-दूसरे के प्रति नकारात्मक हो जाता है। जिसका परिणाम इन्हें निकट भविष्य में देखने को मिल सकता है। अत: जरूरी है कि पति-पत्नी एक-दूसरे को सम्मान दें।

 

3. एक-दूसरे के लिए समय निकालें

वर्तमान की भागदौड़ भरी जिंदगी में पति जहां कमाई में व्यस्त रहता है, वहीं पत्नी बच्चों व परिवार को संभालने में। ऐसी स्थिति में कई बार पति-पत्नी एक-दूसरे को पर्याप्त समय नहीं दे पाते। जिसके कारण दोनों में दूरियां बढ़ जाती हैं। इससे बचने के लिए पति-पत्नी सप्ताह में एक दिन स्वयं के लिए निकालें और कहीं घूमने जाएं या एकांत में समय बिताएं। ऐसा होने से निश्चित रूप से पति-पत्नी के रिश्तों में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे।