Dharm Granth

--Advertisement--

इस तरह की गई पूजा का नहीं मिलता पूरा फल, होता है बुरा असर

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का विशेष महत्व है। धर्म ग्रंथों में भी पूजा से जुड़े कई नियम बताए गए हैं। इन नियमों का ठीक तरह स

Dainik Bhaskar

Mar 10, 2018, 05:00 PM IST
These are some special rules related to worship

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का विशेष महत्व है। धर्म ग्रंथों में भी पूजा से जुड़े कई नियम बताए गए हैं। इन नियमों का ठीक तरह से पालन करने पर ही पूजा का पूरा फल प्राप्त होता है।

नारद पुराण में भी पूजा से संबंधित कुछ बातें बताई गई हैं। उसके अनुसार, पूजा करते समय यदि व्यक्ति के मन में आगे बताई गई 4 भावनाएं आ जाएं तो उसका पूरा फल नहीं मिलता। ये 4 भावनाएं कौन सी हैं, इसकी जानकारी इस प्रकार है-


1. लोभ
जो व्यक्ति किसी लालच या स्वार्थ में आकर भगवान की पूजा करता है, उसे उसका पूरा फल नहीं मिलता। निस्वार्थ भाव से की गई पूजा ही फलदायक होती है। इसलिए बिना किसी लालच के भगवान की पूजा करनी चाहिए.

2. भय
कुछ लोग भय यानी किसी अनहोनी के डर से भगवान की पूजा करते हैं। ऐसे भाव से की गई पूजा का भी संपूर्ण फल नहीं मिलता। भगवान की पूजा बिना किसी भय से ही करनी चाहिए।

3. अज्ञानता
पूजा-पद्धति की जानकारी न होने पर भी भगवान की आराधना नहीं करनी चाहिए। इसका नकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। इसलिए पहले किसी योग्य विद्वान से पूजा संबंधी नियम पता कर लेना चाहिए। उसके बाद ही पूजा करनी चाहिए।

4. दूसरों के कहने पर
कई लोग दूसरों के कहने पर या घर वालों के दबाव में आकर पूजा करते हैं। इस तरह बिना मन से की गई पूजा भी कभी पूरा फल नहीं देती। इसलिए जब भी पूजा करें पूरी श्रद्धा व मन से करें।

These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
X
These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
These are some special rules related to worship
Click to listen..