विज्ञापन

कामभावना में फंसे स्त्री-पुरुष चाहकर भी नहीं कर पाते ऐसा काम, जानें 4 बातें

यूटीलिटी डेस्क

Jan 11, 2018, 05:00 PM IST

विदुर नीति: ये 4 बातें उड़ा सकती है आपकी रातों की नींद और दिन का चैन

vidur neeti ki jaroori baatein, vidur niti in hindi
  • comment

महाभारत में विदुर ने कई नीतियों के बारे में बताया है। वे नीतियां न सिर्फ उस समय में उपयोगी थीं, बल्कि आज भी बहुत महत्व रखती हैं। अगर उन नीतियों का ध्यान रखा जाए, तो मनुष्य किसी भी परेशानी का हल आसानी से पा सकता है। विदुर ने ऐसी कुछ बातों के बारे में बताया है, जिनका ध्यान न रखा जाए तो रात की नींद और शांति दोनों खो सकती हैं-

श्लोक-

अभियुक्तं बलवता दुर्बलं हीनसाधनम्।
ह्रतस्वं कामिनं चोरमाविशन्ति प्रजागराः।।

1. जिसे किसी का भय हो-

जब किसी की दुश्मनी बहुत ताकतवर व्यक्ति से हो जाती है तो उसकी नींद उड़ जाती है। कमजोर या जिस व्यक्ति के पास साधन न हो, उसे हर पल अपने शत्रु का भय सताता रहता है। वह हमेशा ही उससे बचने के उपाय सोचता रहता है। इसी ड़र की वजह से उसकी नींद उड़ जाती है और न ही उसका मन शांत रहता है। इसलिए मनुष्य को किसी से भी शत्रुता नहीं करनी चाहिए।

2. जिसका सब छिन गया हो-

यदि किसी व्यक्ति का सब कुछ छिन गया हो या जिसके पास अपना कुछ भी शेष न बचा हो, उसकी रातों की नींद उड़ जाती है। ऐसा इंसान हर समय अपनी छिनी हुई वस्तुओं को फिर से पाने के बारे में सोचता रहता है। जब तक वह अपनी वस्तुएं फिर से प्राप्त नहीं कर लेता, तब तक उसे नींद नहीं आती है। ऐसी परिस्थिति से बचना चाहिए।

vidur neeti ki jaroori baatein, vidur niti in hindi
  • comment

3. जिसके मन में काम भावना हो-

 

अगर किसी व्यक्ति के मन में कामभाव जाग गया हो तो उसे नींद नहीं आती है। ऐसे व्यक्ति की जब तक काम भावना पूरी न हो जाए,  तब तक वह सो नहीं पाता। कामभावना की वजह से व्यक्ति का मन अशांत हो जाता है और अंशात मन से कोई भी मनुष्य सो नहीं पाता है।

vidur neeti ki jaroori baatein, vidur niti in hindi
  • comment

4. जिसके मन में चोर हो-

 

यदि किसी व्यक्ति के मन में किसी और की वस्तु पाने का लालच हो तो ऐसे उसकी नींद उड़ जाती है। ऐसा व्यक्ति हमेशा ही दूसरे की वस्तु चुराने या प्राप्त करने के बारे में सोचता रहता है। अपनी इच्छा पूरी करने के लिए वह हमेशा ही कोई न कोई योजना बनाता रहता है और सो नहीं पाता है, इसलिए ऐसे भावों से बचना चाहिए। 

X
vidur neeti ki jaroori baatein, vidur niti in hindi
vidur neeti ki jaroori baatein, vidur niti in hindi
vidur neeti ki jaroori baatein, vidur niti in hindi
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन