विज्ञापन

अप्रैल में सिर्फ ये 1 काम करने से दूर हो सकते हैं आपके बुरे दिन

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 05:00 PM IST

हिंदू वर्ष का दूसरा महीना वैशाख 1 अप्रैल, रविवार से शुरू हो चुका है, जो 30 अप्रैल, सोमवार तक रहेगा।

in April month do this 1 work, Will end bad day
  • comment

यूटिलिटी डेस्क. हिंदू वर्ष का दूसरा महीना वैशाख 1 अप्रैल, रविवार से शुरू हो चुका है, जो 30 अप्रैल, सोमवार तक रहेगा। धार्मिक दृष्टि से प्रत्येक महीने का अपना एक विशेष महत्व है। वैशाख के विषय में धर्म ग्रंथों में लिखा है कि-


न माधवसमो मासों न कृतेन युगं समम्।
न च वेदसमं शास्त्रं न तीर्थं गंगया समम्।।
(स्कंदपुराण)

अर्थात- वैशाख के समान कोई महीना नहीं है, सत्ययुग के समान कोई युग नहीं है, वेद के समान कोई शास्त्र नहीं है और गंगाजी के समान कोई तीर्थ नहीं है।

वैशाख का महत्व
धर्म ग्रंथों के अनुसार, स्वयं ब्रह्माजी ने वैशाख को सब मासों से उत्तम मास बताया है। भगवान विष्णु को प्रसन्न करने वाला इसके समान दूसरा कोई मास नहीं है। जो वैशाख मास में सूर्योदय से पहले स्नान करता है, उससे भगवान विष्णु विशेष स्नेह करते हैं। सभी दानों से जो पुण्य होता है और सब तीर्थों में जो फल मिलता है, उसी को मनुष्य वैशाख मास में केवल जल दान करके प्राप्त कर लेता है।

वैशाख में करें जल दान
जो इस मास में जल दान नहीं कर सकता, यदि वह दूसरों को जल दान का महत्व समझाए, तो भी उसे श्रेष्ठ फल प्राप्त होता है। जो मनुष्य इस मास में प्याऊ लगाता है, वह विष्णु लोक में स्थान पाता है। ऐसा भी कहा जाता है कि जिसने वैशाख मास में प्याऊ लगाकर थके-मांदे मनुष्यों को संतुष्ट किया है, उसने ब्रह्मा, विष्णु और शिव आदि देवताओं को संतुष्ट कर लिया।

ये होता है फायदा
जो व्यक्ति वैशाख मास में लोगों को पानी पिलाता है या प्याऊ लगाता है। त्रिदेव यानी ब्रह्मा, विष्णु व महादेव प्रसन्न होते हैं। साथ ही इससे दुर्भाग्य भी दूर हो सकता है।

ये भी पढ़ें-

मौत से पहले यमराज सभी को देते हैं ये 4 संकेत, आप को तो नहीं मिले?

गलती से भी न रखें अपने बच्चों के ये 10 नाम, ये है इसका कारण

in April month do this 1 work, Will end bad day
  • comment
X
in April month do this 1 work, Will end bad day
in April month do this 1 work, Will end bad day
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन