--Advertisement--

​बचना चाहते हैं परेशानी से तो इन 7 जगहों के पास न बनवाएं घर

आज हम आपको कुछ ऐसी जगहों के बारे में बता रहे हैं, जिनके आस-पास घर नहीं लेना चाहिए।

Danik Bhaskar | Nov 29, 2017, 05:00 PM IST

आज के समय में मकान हर इंसान की सबसे बड़ी जरूरत है। देखने में यह भी आता है कि कुछ लोग कम कीमत देखकर ऐसी जगहों पर घर ले लेते हैं, जहां नहीं लेना चाहिए। ऐसी स्थिति में उन्हें आने वाले समय में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आज हम आपको कुछ ऐसी जगहों के बारे में बता रहे हैं, जिनके आस-पास घर नहीं लेना चाहिए। ऐसी जगहों के बारे में जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-

श्मशान या कब्रिस्तान के आस-पास

अगर आपका घर ऐसी जगह है, जहां से श्मशान या कब्रिस्तान साफ दिखाई देता है तो सावधान हो जाईए। ऐसी जगहों से नेगेटिव एनर्जी लगातार आपके घर के ओरा मंडल को प्रभावित करती है। इसका असर घर में रहने वाले सदस्यों के मानसिक स्थिति पर भी पड़ता है। इसलिए श्मशान या कब्रिस्तान के आस-पास घर नहीं होना चाहिए।

 

अस्पताल

अस्पताल या नर्सिंग होम से निकलने वाली नकारात्मक ऊर्जा भी हमारे मनो-मस्तिष्क को प्रभावित करती हैं। इसके साथ ही यहां उपचार करवाने आने वाले बहुत से लोगों बैक्टीरिया व वायरस से संक्रमित होते हैं। इनका असर छोटे बच्चों पर तुरंत होता है। जिससे वे बीमार हो सकते हैं। अत: अस्पताल या नर्सिंग होम के आस-पास भी घर नहीं होना चाहिए।

 

खंडहर या जर्जर मकान

अगर आपके घर की खिड़की या दरवाजे से कोई खंडहर या जर्जर मकान साफ नजर आता है तो तुरंत अपने घर के दरवाजे या खिड़की पर परदा लगाएं। मान्यता है कि ऐसी जगहों पर पेरानार्मल पॉवर्स हो सकती है। ये ऐसे लोगों पर हावी होने की कोशिश करती हैं जो मानसिक स्तर पर कमजोर होते हैं। इसलिए खडंहर या जर्जर मकान के आस-पास मकान नहीं लेना चाहिए। 

 

चौराहे पर

भविष्य पुराण के अनुसार, चौक यानी चौराहे पर भी घर नहीं होना चाहिए। चौराहे पर लोगों व वाहनों का आवागमन निरंतर बना रहता है, उनकी आवाजों का असर घर के ओरा मंडल पर पड़ता है। जिसके कारण अनेक प्रकार की परेशानियां घर में बनी रहती हैं। चौराहों पर अक्सर बाजार विकसित किए जाते हैं, जिससे वहां चहल-पहल बनी रहती है। इसका विपरीत प्रभाव भी घर की पॉजीटिव एनर्जी पर पड़ता है। 

कसीनो (जुआघर)

ऐसी जगह जहां कसीनो (जुआघर) हो, उसके आस-पास भी घर नहीं होना चाहिए। ऐसी जगहों पर लोगों को आना-जाना लगातार बना रहता है और वाद-विवाद होने की आशंका भी बनी रहती है। कई बार ये विवाद बड़े भी हो जाते हैं। सभ्य समाज  में रहने वाले लोगों के लिए ऐसे स्थान पर रहना मुश्किल हो जाता है। इसलिए जहां कसीनो हो, उसके आस-पास घर नहीं लेना चाहिए।

 

शराब की दुकान

अगर आपका घर शराब की दुकान के आस-पास है तो तुरंत उस स्थान को छोड़ देने में ही भलाई है क्योंकि शराब की दुकान नकारात्मकता का प्रतीक है। ऐसी जगहों से नेगेटिव एनर्जी ही निकलती है जो आपके घर को पूरी तरह से प्रभावित करती हैं। अगर आपका घर की खिड़की से शराब की दुकान दिखाई भी देती है तो उस पर परदा लगा लेना चाहिए।

 

स्लॉटर हाऊस

स्लॉटर हाऊस उस जगह को कहते हैं, जहां जानवरों को उनके मांस व अन्य चीजों के लिए मारा जाता है। ऐसी जगहों से निकलने वाली नेगेटिव वाइब्रेशन इतनी शक्तिशाली होती है कि अपने आस-पास के पूरे क्षेत्र को पूरी तरह से प्रभावित कर देती हैं। इसका नकारात्मक असर हमारे दैनिक जीवन पर भी पड़ता है। इसलिए स्लॉटर हाऊस के आस-पास घर नहीं लेना चाहिए।