रुक्मणी ने पत्र मे लिखी थी ये बातें, इसलिए श्रीकृष्ण ने उन्हें बनाया पत्नी / रुक्मणी ने पत्र मे लिखी थी ये बातें, इसलिए श्रीकृष्ण ने उन्हें बनाया पत्नी

जीवनमंत्र डेस्क

Jun 24, 2017, 12:35 AM IST

रास और वृंदावन की आनंदित करने वाली घटनाएं लोक गीतों के माध्यम से तेजी से साधारण लोगों तक पहुंच रही थीं।

Shri Krishna and Rukmini Vivaah
उस समय कृष्ण की उम्र तो काफी कम रही होगी, लेकिन उनकी बाल लीलाओं के साथ ही गोपी रास और वृंदावन की आनंदित करने वाली घटनाएं लोक गीतों के माध्यम से तेजी से साधारण लोगों तक पहुंच रही थीं। इन गीतों के माध्यम से दूसरे गांव के लोग कृष्ण की गैर मौजूदगी में एक साथ इकठ्ठा होकर आनंद और स्नेह से सराबोर हो जाते थे। रुक्मणि ने बचपन से ही से सब बातें सुन रखी थी। जब कृष्ण ने कंस का वध किया था तो रुक्मणि लगभग बारह साल की थीं। उसी समय से उन्होंने अपना मन बना लिया था कि वह कृष्ण के अलावा किसी और से शादी नहीं करेंगी।

उस समय कृष्ण एक मामूली ग्वाले से ज्यादा कुछ नहीं थे, जिसने एक बहादुरी का काम किया था, लेकिन रुक्मणि एक बहुत बड़े साम्राज्य की राजकुमारी थीं। फिर भी वो कृष्ण से विवाह करना चाहती थीं। उन्होंने कृष्ण के सामने अपने प्रेम का इजहार करने के लिए कई तरीके भी आजमाए। कृष्ण भी इस बात से अनजान नहीं थे, क्योंकि उन्हें हर किसी की भावनाओं और इरादों के बारे में पता होता था।
अगली स्लाइड पर पढ़ें- आगे की कहानी ...
X
Shri Krishna and Rukmini Vivaah
COMMENT