--Advertisement--

सफेद मिठाई का दान करने से होता है ये बड़ा फायदा, आप भी करके देखें

कई लोग ऐसे होते हैं जो हर काम को करने के लिए मेहनत तो बहुत करते हैं,

Danik Bhaskar | Dec 14, 2017, 01:43 PM IST
कई लोग ऐसे होते हैं जो हर काम को करने के लिए मेहनत तो बहुत करते हैं, लेकिन फिर भी उन्हें अपने काम में पर्याप्त सफलता नहीं मिलती है। इसका एक कारण मन एकाग्र ना होना भी है। इसलिए कहते हैं कि अगर मन एकाग्र हो और लक्ष्य को पाने की जिद हो तो व्यक्ति असंभव सा लगने वाला कार्य भी आसानी से कर गुजरता है। अगर ज्योतिष के दृष्टीकोण से देखा जाए तो एकाग्रता में कमी का कारण चंद्र होता है।
चंद्र ही एक मात्र ऐसा ग्रह है जो मन की ही तरह तेजी से गतिशील है।चंद्र मात्र ढाई दिन ही एक राशि में रुकता है। इसके चंचल स्वभाव के कारण ही इसे मन का कारक ग्रह भी कहा जाता है। चंद्र हमारे मन को पूरी तरह प्रभावित करता है। यदि चंद्र नीच का या अशुभ फल देने वाला हो तो व्यक्ति पागल भी हो सकता है।
चंद्र विपक्ष में होने पर व्यक्ति कोई भी निर्णय ठीक से नहीं कर पाता। मन भटकता रहता है।इसलिए चंद्र को बलवान बनाने के लिए सफेद चीजों का दान करने को कहा जाता है। जैसे कुंवारी कन्याओं को दूध पिलाना, सफेद मिठाई का दान करना या सफेद कपड़े का दान, बड़ के वृक्ष पर दूध चढ़ाना या चांदी के सिक्के को नदी में प्रवाहित करने से चंद्र को बल मिलता है। इसलिए ऐसी मान्यता है कि मन को एकाग्र करने के लिए सफेद चीजों का दान करना चाहिए।
  • चंद्र ही एक मात्र ऐसा ग्रह है जो मन की ही तरह तेजी से गतिशील है।चंद्र मात्र ढाई दिन ही एक राशि में रुकता है। इसके चंचल स्वभाव के कारण ही इसे मन का कारक ग्रह भी कहा जाता है। चंद्र हमारे मन को पूरी तरह प्रभावित करता है। यदि चंद्र नीच का या अशुभ फल देने वाला हो तो व्यक्ति पागल भी हो सकता है। चंद्र विपक्ष में होने पर व्यक्ति कोई भी निर्णय ठीक से नहीं कर पाता। मन भटकता रहता है।