--Advertisement--

इन 4 स्त्रियों का अपमान करने वाला कभी नहीं रह पाता खुश, हमेशा झेलती पड़ती है गरीबी

संस्कृत के इस प्रसिद्ध श्लोक के अनुसार जहां स्त्रियों की पूजा होती है।

Danik Bhaskar | Dec 04, 2017, 02:43 PM IST

नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता।
यत्रैतास्तु न पूज्यन्ते सर्वास्तत्राफला: क्रिया।

संस्कृत के इस प्रसिद्ध श्लोक के अनुसार जहां स्त्रियों की पूजा होती है। वहां देवता बसते हैं और वहीं जहां स्त्रियों का अपमान होता है वहां हमेशा मुसीबतें और गरीबी बनी रहती है, तो हर स्त्री सम्मान की हकदार है। तुलसीदासजी ने भी कहा है कि जो स्त्रियों के प्रति खराब व्यवहार रखता है वह जीवन में कभी खुश नहीं रह पाता है और उसका पूरा जीवन खस्ताहाल बीतता है।

अगली स्लाइड पर पढ़ें- किन स्त्रियों के अपमान से बचना चाहिए ...