--Advertisement--

इस तरह करेंगे पीपल की पूजा तो दूर हो सकती हैं परेशनियां, मिलता है सुख और ऐश्वर्य

श्रीमद् भागवत में श्रीकृष्ण ने पीपल को स्वयं का ही एक स्वरूप बताया है।

Dainik Bhaskar

Nov 29, 2017, 03:22 PM IST
Peepal Puja Vidhi and Mantra

पीपल के पूजन की प्रथा भारत में सालों से रही है। वेदों में भी जहां एक ओर इसका ज़िक्र मिला है वहीं दूसरी तरफ गीता में खुद को श्रीकृष्ण ने पीपल कहा है। यही कारण है कि ज्योतिष में पीपल के पूजन को पापों को मिटाने वाला माना गया है। पीपल की पूजा से सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं। दुनियां के सारे सुख, ऐश्वर्य की प्राप्त हो सकते हैं। आइए जानते पूजा करने की शास्त्रों में बताई गई खास विधि...

जिस दिन पीपल का पूजन करना है, उस दिन सूर्योदय के पहले जागकर नित्य कर्म करने के सफेद कपड़े पहनकर किसी ऐसे स्थान पर जाएं जहां पीपल स्थित हो। पीपल की जड़ में गाय का दूध, तिल और चंदन मिला हुआ पवित्र जल अर्पित करें। जल अर्पित करने के बाद जनेऊ फूल व प्रसाद चढ़ाएं। धूप-बत्ती व दीप जलाएं। आसन पर बैठकर या खड़े होकर मंत्र जप करें या इष्ट देवी-देवताओं का स्मरण करें।

अगली स्लाइड पर पढ़ें- पीपल के पूजन का मंत्र अौर उपाय ....

Peepal Puja Vidhi and Mantra
Peepal Puja Vidhi and Mantra
Peepal Puja Vidhi and Mantra
X
Peepal Puja Vidhi and Mantra
Peepal Puja Vidhi and Mantra
Peepal Puja Vidhi and Mantra
Peepal Puja Vidhi and Mantra
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..