--Advertisement--

रविवार को इस तरह चढ़ाएं सूर्य को जल, नहीं होगी यश कमी खत्म होने लगेंगी बीमारियां

सूर्य ही ऊर्जा और जीवन का स्त्रोत है। इसलिए सूर्य पूजन की परंपरा भारत में वैदिक काल से रही है।

Danik Bhaskar | Dec 02, 2017, 01:26 PM IST

सूर्य ही ऊर्जा और जीवन का स्त्रोत है। इसलिए सूर्य पूजन की परंपरा भारत में वैदिक काल से रही है। मान्यता है कि सूर्य की आराधना से शरीर स्वस्थ रहता है और जीवन में यश और वैभव मिलता है। यदि रोजाना सूर्य की आराधना के लिए वक्त नहीं मिलता है तो रविवार को करना चाहिए। इससे भी पूजा का पूरा फल मिलता है...

अगली स्लाइड पर पढ़ें- कैसे करना चाहिए सूर्य की आराधना...