Rashi Aur Nidaan

--Advertisement--

मार्च-19 तक गुरु-शनि इन राशियों की चमकाएंगे किस्मत, बाकी राशियों को रहना होगा अलर्ट

1 अप्रैल से नया वित्तीय वर्ष शुरू हो गया है।

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:31 PM IST
annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi

यूटिलिटी डेस्क. धन संबंधी कार्यों और व्यापार-व्यवसाय के लिए नया साल 1 अप्रैल से प्रारंभ होता है। इसे वित्तीय वर्ष कहा जाता है। वित्तीय वर्ष के विषय में वे लोग अवश्य जानते हैं, जो व्यापार-व्यवसाय करते हैं, किसी कंपनी में कार्य करते हैं, बैंक या अन्य किसी धन संबंधी संस्था से जुड़े हुए हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार इस साल 11 अक्टूबर 2018 में धन का कारक ग्रह गुरु वृश्चिक राशि में चला जाएगा। शनि पूरे साल धनु राशि में रहेगा, इस राशि का स्वामी गुरु है। राहु पूरे वर्ष कर्क में एवं केतु मकर में रहेगा। ये ग्रह मार्च 2019 में राशि बदलेंगे। यहां जानिए शनि और गुरु की स्थिति के अनुसार सभी 12 चंद्र राशियों के लिए आने वाला समय कैसा रहेगा...

मेष- इस राशि के लिए सप्तम गुरु अक्टूबर-18 से अष्टम हो जाएगा। चिंताएं बढ़ाने वाला और निवेश से नुकसान दिलाने वाला हो सकता है। इस समय में हर व्यापार से संबंधित व्यक्ति को सचेत रहना होगा। कोई भी जोखिम उठाने से पहले एवं ऋण लेने से पहले अच्छी तरह विचार अवश्य करें। लालच देने वाली योजनाओं से बचें एवं किसी के बहकावे में आने से बचें।

वृषभ- गुरु अभी षष्ठम है, अत: किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं है। आय सुचारू है। व्यापार भी ठीक ढंग से काम कर रहा है। अक्टूबर-18 से गुरु सप्तम हो जाएगा। जो किसी प्रकार से नुकसानदायक नहीं है। संपत्ति में वृद्धि करेगा एवं पिछले घाटे को भी पूरा करेगा। नई व्यापारिक योजनाएं मिलेंगी एवं आय भी अच्छी बनी रहेगी। शनि का ढय्या कुछ परेशानियां बढ़ा सकता है।

मिथुन- अक्टूबर-18 तक गुरु पंचम और फिर षष्ठम हो जाएगा। आपके लिए षष्ठम गुरु ज्यादा लाभ दिलाने की स्थिति में नहीं है। अपने सभी वित्तीय कार्यों को संभाल कर करें और निवेश से पूर्व पहले सावधानी बरतें। किसी की बातों पर विश्वास ठोस आधार के बिना नहीं करें। नीतियों में परिवर्तन करेंगे ज्यादा लाभ हो सकते है।

ये भी पढ़ें-

सोमवार को कर लें ये उपाय, पूरे महीने मिल सकता है धन लाभ

annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi

कर्क- चतुर्थ गुरु अक्टूबर-18 में पंचम हो जाएगा। जो अभी तक अटके सभी कामों में गति लाने के साथ ही कई महत्वपूर्ण सफलताएं दिलवाएगा। निवेश में लाभ होने के साथ ही अन्य स्रोतों से भी धन की प्राप्ति होगी। अचानक धन प्राप्ति के योग भी बनेंगे एवं उधार दिया पैसा वापस मिल सकता है। स्थाई संपत्ति की प्राप्ति संभव है। अक्टूबर तक शांत बने रहें।

 

सिंह- अक्टूबर-18 से गुरु चतुर्थ हो जाएगा। लाभ के में कुछ कमी आ सकती है, लेकिन निरंतरता बनी रहेगी। स्थाई निवेश से भी बड़ा लाभ होने के आसार हैं। कार्यों की अधिकता भी रहेगी और अटका पैसा मिलने की संभावनाएं कम हो सकती हैं। अक्टूबर तक व्यापार में अनुकूलता बनी रहेगी और नए सौदे भी लाभकारी रहेंगे। द्वादश राहु की वजह से परेशानियां हो सकती हैं।

 

कन्या- वर्तमान में गुरु द्वितीय है। अक्टूबर-18 से यह तृतीय हो जाएगा। सभी वित्तीय मामलों में शुभकारी होने के साथ लाभकारी भी होगा। पिछले कुछ समय से अटके हुए सभी काम पूरे हो सकते हैं। बड़ा लाभ हो सकता है। आमदनी के स्रोत एक से अधिक हो सकते हैं। कोई बड़ी सफलता मिलने के साथ ही समाज में भी मान-सम्मान मिल सकता है। शनि का ढय्या है, इस कारण वायदा बाजार और उधार देने से बचें।

annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi

तुला- गुरु राशि से अक्टूबर-18 में द्वितीय हो जाएगा। जब तक आय की स्थित उत्तम बनी रहेगी तत्पश्चात आय के मामलों में कमी हो सकती है। अनावश्यक खर्चो में भी वृद्धि के योग हैं। सभी कार्य सोच-समझकर करें। पुराने निवेश से लाभ हो सकता है। अटकेे धन को प्राप्त करने के लिए कानूनी सहारा लेना पड़ सकता है।

 

वृश्चिक- द्वादश गुरु ने व्यापार, व्यवसाय और नौकरी में परेशानियां बढ़ाई हैं। चिंताएं बनी हुई हैं। हालांकि आने वाले समय में गुरु की वजह से समय-समय पर राहत भी मिलेगी। अक्टूबर-18 से गुरु के राशि में आते ही सब ठीक हो जाएगा। धन का लाभ बढ़ सकता है, चिंताएं समाप्त होने लगेंगी।

 

धनु- अक्टूबर-18 तक एकादश गुरु शुभ फल देने वाला रहेगा। आर्थिक स्थिति को मजबूत करने वाला रहेगा। निवेश से लाभ होने के योग हैं। साथ ही, स्थाई संपत्ति से लाभ दिलाने वाला होगा। समकक्षों से तुलानात्मक ज्यादा लाभ प्राप्त करेंगेे और किसी विवादित संपत्ति से भी लाभ मिलने की संभावनाएं हैं। अक्टूबर-18 के बाद संभलकर रहना होगा। साढ़ेसाती और द्वादश गुरु चिंताएं दे सकता है।

annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi

मकर- अक्टूबर-18 के बाद एकादश गुरु पिछले समय से आ रही आय में रूकावटें समाप्त होंगी और बड़ी सफलताओं के साथ ही आर्थिक मामलों में सुधार होगा। कार्यों में गति आएगी। धन के लिए अटकों मामलों में तेजी आएगी। स्वयं पर भरोसा जागेगा और नई उपलब्धियों को प्राप्त करेंगे। नौकरी आदि के मामलों में भी सुधार होगा।

 

कुंभ- अक्टूबर-18 तक गुरु की पंचम दृष्टि बनी हुई है। यह समय अच्छा बना हुआ है। अक्टूबर-18 के बाद गुरु की दृष्टि हटते ही नौकरी में लक्ष्य साधना मुश्किल हो जाएगा। व्यापार में भी कठिनाई आ सकती है। गुरु के दशम होने से काम चलता रहेगा। काम रूक-रूक कर होंगे। परिवार के लिए व्यय बढ़ जाएंगे। स्थाई संपत्ति से लाभ होगा।

 

मीन- अष्टम गुरु अक्टूबर-18 से अनुकूल हो जाएगा। लाभ अपेक्षित नहीं होंगे फिर भी किसी बात की कमी नहीं आएगी। दूसरों में भरोसा करना नुकसानदायक हो सकता है। हर निवेश को अच्छी तरह जांच कर करें और जोखिम लेने से पहले सलाह अवश्य लेें। स्थाई संपत्ति की वृद्धि हो सकती है और साल के अंत तक उसमें लाभ के आासार हैं।

X
annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi
annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi
annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi
annual rashifal 2018, horoscope for new year, rashifal in hindi, astrology in hindi
Click to listen..