--Advertisement--

रविवार से शुरू करें ये 5 उपाय, बुरे से बुरा समय होने लगेगा दूर

कुंडली में ग्रहों की स्थिति ठीक न हो तो जीवन में परेशानियां बनी रहती हैं।

Danik Bhaskar | Jan 06, 2018, 07:14 PM IST

जिन लोगों की कुंडली में ग्रहों के दोष होते हैं वे दुर्भाग्य का सामना करते हैं। दुर्भाग्य यानी भाग्य का साथ न मिलना। किसी भी काम में कड़ी मेहनत के बाद भी सफलता नहीं मिलना ही दुर्भाग्य है। ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की अशुभ स्थिति की वजह से समस्याओं से मुक्ति नहीं मिल पाती है। अगर शास्त्रों में बताए गए शुभ काम रोज किए जाए तो धीरे-धीरे दुर्भाग्य से छुटकारा मिल सकता है।

सूर्य है ग्रहों का राजा

ज्योतिष में नौ ग्रह बताए गए हैं। ये नौ ग्रह हैं सूर्य, चंद्र, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, शनि, और राहु-केतु। सूर्य ग्रहों का राजा है और रविवार का कारक है। इसीलिए यहां बताए जा रहे उपाय रविवार से शुरू करेंगे तो कुंडली के दोषों का असर कम हो सकता है। इन उपायों से कार्यों में आ रही बाधाएं भी कम हो सकती हैं।

यहां जानिए ये पवित्र काम कौन-कौन से हैं...


पहला उपाय

रोज स्नान के बाद सूर्य को जल चढ़ाएं। सूर्य को आत्मा का कारक माना गया है। इस काम से पितृ कृपा मिलती है।
दूसरा उपाय

तुलसी को जल चढ़ाएं और 11 परिक्रमा करें। ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप करें। इस उपाय से विष्णु और महालक्ष्मी की कृपा मिलती है।
तीसरा उपाय

किसी गरीब को काले कंबल का दान करें। इससे राहु-केतु के बुरे असर दूर होते हैं।
चौथा उपाय

शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं और काले तिल का दान करें। इस उपाय से शिवजी के साथ ही सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं।
पांचवां उपाय

मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं। इस उपाय बड़ी-बड़ी परेशानियों से भी मुक्ति मिल सकती है।