--Advertisement--

स्त्री हो या पुरुष, ऐसे मालूम कर सकते हैं किसी का स्वभाव अच्छा है या नहीं

चाणक्य की नीतियों का पालन करने पर हम बहुत सी परेशानियों से बच सकते हैं।

Dainik Bhaskar

Jan 26, 2018, 05:00 PM IST
chanakya niti in hindi, how to know nature of any person, acharya chanakya

किसी भी व्यक्ति का स्वभाव तभी मालूम हो सकता है, जब उससे लगातार मिलते हैं। स्त्री हो या पुरुष, किसी व्यक्ति से पहली बार मिलते समय ही कुछ बातों को ध्यान रखा जाए तो इंसान का स्वभाव समझा जा सकता है। आचार्य चाणक्य ने ऐसी चार बातें बताई हैं, जिनसे इंसान का अच्छा इंसान की परख हो सकती है।

चाणक्य कहते हैं कि-

यथा चतुर्भि: कनकं परीक्ष्यते शीलेन छेदनतापताडनै:।

तथा चतुर्थि: पुरुषं परीक्ष्यते त्यागेन शीलेन गुणेन कर्मणा।।

इस श्लोक का अर्थ यह है कि जिस प्रकार सोने को रगड़ने, काटने, तपाने और पीटने से उसकी परख होती है ठीक इसी प्रकार इंसान की परख के लिए त्याग, विनम्रता, गुण और कर्मों को देखना चाहिए।

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि सोने की शुद्धता जांचने की प्रक्रियां में चार चरण होते हैं।

- पहले चरण में सोने को घीसकर देखा जाता है, फिर काटकर देखा जाता है, इसके बाद आग में तपाकर सोने की परख की जाती है। चौथे चरण में सोने को कूटकर उसकी शुद्धता मालूम की जाती है।

- इस प्रक्रिया से गुजरने के बाद सोना शुद्ध है या नहीं, हमें मालूम हो जाता है।

- ठीक इसी प्रकार इंसान की परख के लिए भी चार बातों का ध्यान रखना चाहिए। किसी भी व्यक्ति से मिलते समय ध्यान रखना चाहिए कि व्यक्ति बोलने में विनम्र है या नहीं। विनम्रता सज्जन व्यक्ति की पहचान है। ऐसे लोग हमेशा मान-सम्मान देने वाले और संस्कारवान होते हैं।

- इसके अलावा व्यक्ति के गुण कैसे हैं, यह भी देखना चाहिए। बात करते समय किसी भी व्यक्ति के आचार-विचार और व्यवहार भी काफी कुछ बता देते हैं।

- साथ ही, व्यक्ति की त्याग भावना भी देखनी चाहिए। अगर कोई व्यक्ति दूसरों के सुख के लिए खुद के सुख का त्याग करने वाला है तो वह अच्छा इंसान होता है।

X
chanakya niti in hindi, how to know nature of any person, acharya chanakya
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..