Rashi Aur Nidaan

--Advertisement--

इस उपाय से घर आती हैं महालक्ष्मी, जानिए कब और कैसे करें

जीवन में परेशानियां का आना-जाना लगा रहता है। कुछ परेशानियां थोड़े समय के लिए होती हैं तो कुछ लंबे समय तक बनी रहती हैं।

Dainik Bhaskar

Dec 28, 2017, 05:00 PM IST
easy astrology measures.

जीवन में परेशानियां का आना-जाना लगा रहता है। कुछ परेशानियां थोड़े समय के लिए होती हैं तो कुछ लंबे समय तक बनी रहती हैं। ज्योतिष शास्त्र में ऐसे अनेक उपाय बताए गए हैं, जिन्हें करने से छोटी-मोटी समस्याओं का निराकरण आसानी से हो सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही आसान ज्योतिषीय उपायों के बारे में बता रहे हैं-

इस उपाय से होगा धन लाभ
धन की प्राप्ति तभी संभव है जब धन की देवी लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहे। ज्योतिष शास्त्र में देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कई उपाय बताए गए हैं। उनमें से एक नीचे लिखा है। इसे करने से धन की इच्छा पूरी हो सकती है।

उपाय
शास्त्रों के अनुसार, प्रत्येक पूर्णिमा पर सुबह-सुबह पीपल के वृक्ष पर मां लक्ष्मी का आगमन होता है। इसलिए यदि आप धन की इच्छा रखते हैं तो तो इस दिन सुबह उठकर नित्य कर्मों से निवृत्त होकर पीपल के पेड़ के नीचे मां लक्ष्मी की पूजा करें और लक्ष्मी को घर पर निवास करने के लिए आमंत्रित करें। इससे लक्ष्मी की कृपा आप पर सदा बनी रहेगी।

दुश्मन भी बन जाएगा दोस्त इस उपाय से
कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनके मित्र से ज्यादा शत्रु होते हैं। यह शत्रुता किसी भी कारण से हो सकती है। ऐसे व्यक्ति को शत्रुओं द्वारा हानि का भय भी सताता रहता है। नीचे लिखे मंत्र के प्रभाव शत्रु आपका मित्र बन जाएगा और सपने में भी आपका अहित नहीं सोचेगा।

मंत्र
गरल सुधा रिपु करहिं मिताई,
गोपद सिंधु अनल सितलाई


जप विधि
- सुबह नहाकर, साफ वस्त्र पहनकर भगवान श्रीराम की पूजा करें।
- पूर्व दिशा की ओर मुख करके, कुश के आसन पर बैठें और तुलसी की माला से इस मंत्र का जाप करें।
- कम से कम 5 माला का जाप अवश्य करें।
- कुछ ही दिनों में आपके शत्रु, मित्र बन जाएंगे।
- मंत्र जाप का समय, आसन, आसन एक ही हो तो मंत्र जल्दी सिद्ध हो जाता है।

अन्य ज्योतिषीय उपाय जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-

तस्वीरों का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।



easy astrology measures.

इस उपाय से बढ़ने लगेगा व्यापार
कई बार ऐसा देखने में आता है कि अच्छी-भली दुकान चलते-चलते ठप्प हो जाती है या उसका व्यापार कम हो जाता है। इसके कई कारण हो सकते हैं। अगर आपकी दुकान में भी ऐसी ही कुछ समस्या है तो नीचे लिखा उपाय करें-


उपाय
सोमवार को गंगाजल लेकर उस पर फूंक मारकर 21 बार गायत्री मंत्र का जाप करें फिर इस जल को अपनी दुकान की दीवारों पर छिड़क दें। ऐसा लगातार 7 सोमवार तक करें। व्यापार में वृद्धि होने लगेगी। साथ ही सोमवार को ही सफेद चंदन लेकर आएं। उसे एक सप्ताह तक घर के मंदिर में रखें, धूप बत्ती दिखाएं, उसके बाद उसे दुकान की तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से व्यापार में जो वृद्धि हुई है वह लगातार बढ़ती जाएगी साथ ही घर-परिवार में भी खुशी का वातावरण रहेगा।

easy astrology measures.

इस उपाय से घर में रहेगी सुख-शांति
सभी चाहते हैं कि उनके घर में सुख-शांति रहे और किसी प्रकार की क्लेश न हो। लेकिन वर्तमान समय में ऐसे कम ही घर होते हैं जहां किसी प्रकार का क्लेश न होता हो। अगर आपके घर में आए दिन किसी न किसी बात पर क्लेश होता है तो इसके लिए यह उपाय करें-


उपाय
शनिवार को स्नान आदि करने के बाद किसी पीपल के पेड़ से एक पत्ता तोड़ लाएं। उस पर सफेद चंदन से गायत्री मंत्र लिखें और उसकी पूजा करें। अब इसे किसी ऐसे स्थान पर रख दें जहां किसी की नजर इस पर न पड़े यदि आप धन-संपत्ति चाहते हैं इस पत्ते को अपने कैश बॉक्स में भी रख सकते हैं, लेकिन यह किसी को दिखाई न दे इस प्रकार रखें। इस पीपल के पत्ते को हर शनिवार को बदलते रहें। इससे घर में सुख-शांति रहेगी और धन-संपत्ति भी बढ़ती रहेगी।
 

easy astrology measures.

कोर्ट केस जीतना तो यह उपाय करें
क्या आपका कोई कोर्ट केस लंबे समय से चल रहा है तो नीचे लिखा उपाय करने से केस का फैसला आपके पक्ष में हो सकता है।


उपाय
मंगलवार से शुरू करके हर रोज शाम को चार-पांच बजे के करीब गेहूं की रोटी के चूरे में देशी घी और चीनी मिलाकर कौओं को खिलाएं। ऐसा तब तक करते रहें जब तक कि मुकद्मा चलता रहे। इसके प्रभाव से केस का फैसला आपके पक्ष में हो जाएगा। जब मुकद्मा जीत जाएं तो कौओं को रोटी खिलाने का प्रयोग कम से कम एक हफ्ते तक और करते रहें।

easy astrology measures.

इस उपाय से तेज होगा दिमाग
जीवन में आगे बढ़ने के लिए तेज दिमाग होना बहुत जरुरी है। यदि आप चाहते हैं कि आपका दिमाग भी तेज चले तो नीचे लिखे मंत्र का विधि-विधान से जाप करें। इस मंत्र के जाप से बुद्धि तेज होती है। 


मंत्र
सर्वस्य बुद्धिरूपेण जनस्थ ह्रदि संस्थिते।
स्वर्गापवर्गके देवि नारायाणि नमोस्तुते।।


जाप विधि
- प्रतिदिन सुबह स्नान आदि करने के बाद तुलसी के पौधे के सामने घी का दीया जलाएं।
- इसके बाद कुश के आसन पर बैठकर तुलसी की माला से इस मंत्र का कम से कम 108 बार जाप करें।
- कुछ ही दिनों में आपको स्वयं के अंदर परिवर्तन महसूस होगा।

X
easy astrology measures.
easy astrology measures.
easy astrology measures.
easy astrology measures.
easy astrology measures.
Click to listen..