विज्ञापन

संक्रांति से पहले 12 जनवरी को शुभ दिन, पूजा के बाद तिजोरी में रख दें ये चीजें

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 05:02 PM IST

एक माह में दो एकादशियां आती हैं और इस तिथि पर किए गए व्रत से सभी दुख दूर होते हैं।

ekadashi ke upay, makar sakranti ke upay, makar sankranti 2018, laxmi puja
  • comment

मकर संक्रांति से पहले शुक्रवार, 12 जनवरी 2014 को बहुत ही शुभ दिन है। इस दिन षट्तिला एकादशी है। शुक्रवार और एकादशी के योग में किए गए उपायों से घर-परिवार और संतान संबंधी परेशानियों से मुक्ति मिल जाती है। एकादशी पर महालक्ष्मी के स्वामी भगवान विष्णु का पूजन करने पर लक्ष्मी की स्थाई कृपा मिलती है।

ये है एकादशी व्रत की सामान्य विधि

जो लोग एकादशी व्रत रखना चाहते हैं वे दशमी तिथि को भी एक बार ही भोजन करें। एकादशी पर सुबह जल्दी उठें और दैनिक कार्यों के बाद जल, तुलसी, तिल, फूल और पंचामृत से भगवान विष्णु की पूजा करें। एकादशी की शाम पूजा करें, दीपक जलाएं और पूजन के बाद फलाहार किया जा सकता है। अगले दिन द्वादशी तिथि पर किसी जरुरतमंद व्यक्ति को दान-दक्षिणा देकर भोजन करवाएं।

ये है एकादशी के कुछ खास उपाय

- लक्ष्मी, भगवान नारायण की पत्नी हैं और नारायण को अत्यंत प्रिय भी हैं। उनकी उत्पत्ति समुद्र मंथन से हुई है। शंख, मोती, सीप, कौड़ी भी समुद्र से प्राप्त होने के कारण विष्णुजी को भी प्रिय हैं। इसीलिए इस दिन लक्ष्मी पूजन भी करें और पूजन में समुद्र से प्राप्त वस्तुओं को अवश्य शामिल करें। इसके बाद जब भी लक्ष्मी पूजन करें, ये चीजें जरूर रखें। पूजन के बाद इन चीजों को धन के स्थान पर स्थापित करने से धन वृद्धि होती है।

- इस दिन लक्ष्मी-विष्णु पूजा के बाद प्रमुख द्वार पर लक्ष्मी के गृहप्रवेश करते हुए चरण चिह्न स्थापित करें।

- श्रीयंत्र, कनकधारा यंत्र, कुबेर यंत्र को सिद्ध कराकर पूजा स्थान पर या तिजोरी में रखा जाता है।

- दक्षिणावर्ती शंख के पूजन और स्थापना से भी धन की कमी दूर हो सकती है।

- इस दिन आंकड़े के गणेश की पूजा और स्थापना से घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है।

X
ekadashi ke upay, makar sakranti ke upay, makar sankranti 2018, laxmi puja
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन