--Advertisement--

ये हैं सुख-समृद्धि बढ़ाने वाला महामंत्र, इस तरीके से करेंगे जाप तो दूर हो सकता है दुर्भाग्य

पुरानी मान्यता है कि गणेशजी की पूजा करते रहने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

Danik Bhaskar | Mar 11, 2018, 05:00 PM IST

यूटिलिटी डेस्क. पुरानी मान्यता है कि गणेशजी की पूजा करते रहने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। अगर हर रोज गणेशजी की पूजा नहीं कर पा रहे हैं तो खासतौर पर बुधवार को इनकी पूजा जरूर करें। साथ ही, बुधवार को बुध ग्रह के लिए भी पूजा की जाती है। अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में बुध ग्रह अशुभ स्थिति में हो तो बुधवार को यहां बताई जा रही विधि से पूजा करनी चाहिए...

उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी और ज्योतिर्विद पं. सुनील नागर के अनुसार गणेश को सिंदूर, चंदन, यज्ञोपवीत, दूर्वा, लड्डू या गुड़ से बनी मिठाई का भोग लगाना चाहिए। धूप व दीप लगाकर आरती करें। पूजन में इस मंत्र का जाप करें-

मंत्र- प्रातर्नमामि चतुराननवन्द्यमानमिच्छानुकूलमखिलं च वरं ददानम्।

तं तुन्दिलं द्विरसनाधिपयज्ञसूत्रं पुत्रं विलासचतुरं शिवयो: शिवाय।।

प्रातर्भजाम्यभयदं खलु भक्तशोकदावानलं गणविभुं वरकुञ्जरास्यम्।

अज्ञानकाननविनाशनहव्यवाहमुत्साहवर्धनमहं सुतमीश्वरस्य।।

इस मंत्र का अर्थ यह है कि मैं ऐसे देवता का पूजन करता हूं, जिनकी पूजा स्वयं ब्रह्मदेव करते हैं। ऐसे देवता, जो मनोरथ सिद्धि करने वाले हैं, भय दूर करने वाले हैं, शोक का नाश करने वाले हैं, गुणों के नायक हैं, गजमुख हैं, अज्ञान का नाश करने वाले हैं। मैं शिव पुत्र श्री गणेश का सुख-समृद्धि और सफलता की कामना से भजन, पूजन और स्मरण करता हूं।

अगर मंत्र जाप नहीं सकते हैं तो गणेशजी को ये पांच चीजें चढ़ा दें

गणेशजी प्रथम पूज्य हैं और ये सुख-समृद्धि के दाता हैं। इनकी कृपा से परेशानियां दूर हो सकती हैं। जानिए गणेशजी को कौन-कौन सी चीजें चढ़ाएं

पहली चीज है दूर्वा

दूसरी चीज है सुपारी

तीसरी चीज है पान का पत्ता

चौथी चीज है केले

पांचवीं चीज है लाल फूल

ये पांच रोज गणेशजी को चढ़ाएंगे तो भाग्य बाधा दूर हो सकती है।