विज्ञापन

अगर आप भी पहनते हैं मोती तो ये बातें ध्यान रखें, इस राशि के लिए होता है फायदेमंद

Dainik Bhaskar

Feb 19, 2018, 05:00 PM IST

ज्योतिष के अनुसार रत्न धारण करने से परेशानियां दूर हो सकती हैं।

importance of pearl in hindi moti in finger, pearl stone in which finger
  • comment

मोती चंद्र का रत्न है, इसे पहनने से शांति मिलती है और त्वचा के रोग दूर होते हैं। पर्ल या मोती का रंग चमकदार सफेद होता है। यह चंद्र का रत्न है और इसीलिए कर्क राशि वालों के लिए ये विशेष रूप से फायदेमंद होता है। यह त्वचा रोग के साथ ही पेट संबंधी बीमारी, श्वास रोग, मस्तिष्क रोग में भी लाभ पहुंचाता है। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार मोती से जुड़ी किन बातों का ध्यान रखना चाहिए...

मोती कब पहनना चाहिए

जिन लोगों की कुंडली में चंद्र कमजोर होता है, उन्हें मोती धारण करना चाहिए। मोती धारण करने से पहले किसी विशेषज्ञ ज्योतिषी से परामर्श अवश्य कर लेना चाहिए। ऐसे लग्न की कुंडली जिसमें चंद्र शुभ भाव (केंद्र या‍ त्रिकोण) का स्वामी होता है, लेकिन निर्बल हो तो मोती पहनना लाभदायक होता है। यदि गलत योगों में मोती धारण किया जाता है तो डिप्रेशन, निराशा बढ़ सकती है।

- चंद्र नीच राशि वृश्चिक में हो तो मोती पहनना लाभदायक रहता है।

- चंद्रमा राहु या केतु की युति में हो तो मोती पहन सकते हैं।

- चंद्रमा पाप ग्रहों की दृष्टि में हो तो मोती पहनना चाहिए।

- चंद्रमा क्षीण हो या सूर्य के साथ हो तो मोती धारण करना चाहिए।

- चंद्रमा की महादशा होने पर मोती पहनना च‍ाहिए।

- चंद्रमा क्षीण हो, कृष्ण पक्ष का जन्म हो तो भी मोती पहनने से लाभ मिलता है।

मोती धारण करने से कुंडली में चंद्र को बल मिलता है और इसके बली होने से मानसिक तनाव दूर होता है। साथ ही, पथरी, मूत्र रोग, जोड़ों का दर्द आदि रोगों में भी राहत मिल सकती है।

किसी उंगली में पहनें मोती

मोती सबसे छोटी उंगली में चांदी की अंगूठी के साथ धारण करना चाहिए। इसके लिए रविवार को मोती लेकर आएं और सोमवार को धारण करें। अगर आप चाहें तो मोती गले में भी धारण के सकते हैं।

X
importance of pearl in hindi moti in finger, pearl stone in which finger
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन