विज्ञापन

तुलसी के नीचे रख दें ये चमत्कारी चीज, घर में घुस नहीं पाएगी दरिद्रता

Dainik Bhaskar

Jan 05, 2018, 05:00 PM IST

पूजन सामग्री की दुकानों पर शालिग्राम अलग-अलग रूपों में मिलते हैं।

importance of shaligram, vishnu puja method, tulsi puja method in hindi
  • comment

घर की गरीबी दूर करने के लिए शास्त्रों में कई उपाय बताए गए हैं, इन उपायों का पालन करने पर घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। ऐसा ही एक उपाय है तुलसी की जड़ के पास शालिग्राम (एक पत्थर) रखकर रोज पूजा करना। शालिग्राम को भगवान विष्णु का स्वरूप माना जाता है। जिन घरों में तुलसी के साध शालिग्राम की पूजा की जाती है, वहां दरिद्रता नहीं आ पाती। यहां जानिए शालिग्राम से जुड़ी खास बातें...

- शालिग्राम नेपाल की गंडकी नदी के तल से प्राप्त होते हैं। शालिग्राम काले रंग के चिकने, अंडाकार पत्थर को कहते हैं।
- इसे स्वयंभू माना जाता है यानी इनकी प्राण प्रतिष्ठा की आवश्यकता नहीं होती। कोई भी व्यक्ति इन्हें घर या मंदिर में स्थापित करके पूजा कर सकता है।
- शालिग्राम अलग-अलग रूपों में मिलते हैं। कुछ अंडाकार होते हैं तो कुछ में एक छेद होता है। इस पत्थर में शंख, चक्र, गदा या पद्म से निशान बने होते हैं।

घर में शालिग्राम रखने के फायदे
1. भगवान् शालिग्राम की पूजा तुलसी के बिना पूरी नहीं होती है और तुलसी अर्पित करने पर वे तुरंत प्रसन्न हो जाते हैं।
2. शालिग्राम और भगवती स्वरूपा तुलसी का विवाह करने से सारे अभाव, कलह, पाप, दुःख और रोग दूर हो जाते हैं।
3. तुलसी शालिग्राम विवाह करवाने से वही पुण्य फल प्राप्त होता है जो कन्यादान करने से मिलता है।
4. पूजा में शालिग्राम को स्नान कराकर चंदन लगाएं और तुलसी अर्पित करें। भोग लगाएं। यह उपाय तन, मन और धन सभी परेशानियां दूर कर सकता है।

importance of shaligram, vishnu puja method, tulsi puja method in hindi
  • comment

5. विष्णु पुराण के अनुसार जिस घर में भगवान शालिग्राम हो, वह घर तीर्थ के समान होता है।
6. ब्रह्मवैवर्तपुराण के प्रकृतिखंड में बताया है कि जहां भगवान शालिग्राम की पूजा होती है, वहां विष्णुजी के साथ महालक्ष्मी भी निवास करती हैं।
7. पूजा में शालिग्राम पर चढ़ाया हुआ भक्त अपने ऊपर छिड़कता है तो उसे तीर्थों में स्नान के समान पुण्य फल मिलता है।
 

importance of shaligram, vishnu puja method, tulsi puja method in hindi
  • comment

8. जो व्यक्ति शालिग्राम पर रोज जल चढ़ाता है, वह अक्षय पुण्य प्राप्त करता है।
9. शालिग्राम को अर्पित किया हुआ पंचामृत प्रसाद के रूप में सेवन करने से सभी पापों से मुक्ति मिलती है।
10. जिस घर में शालिग्राम की रोज पूजा होती है, वहां के सभी दोष और नकारात्मकता खत्म होती है।

X
importance of shaligram, vishnu puja method, tulsi puja method in hindi
importance of shaligram, vishnu puja method, tulsi puja method in hindi
importance of shaligram, vishnu puja method, tulsi puja method in hindi
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन