विज्ञापन

रविवार और नवरात्र का शुभ योग, सूर्य को जल चढ़ाते हैं तो ये काम भी कर लें

dainikbhaskar.com

Mar 17, 2018, 05:00 PM IST

ज्योतिष के अनुसार सूर्य को जल चढ़ाने से कुंडली के कई दोष दूर हो सकते हैं।

Jyotish ke upay, navratra ke upay, devi puja, surya puja ke upay, surya ko jal
  • comment

यूटिलिटी डेस्क. इस साल रविवार, 18 मार्च से चैत्र मास के नवरात्र शुरू हो रहे हैं। इस नवरात्र की अंतिम तिथि 25 मार्च को है और इस दिन भी रविवार ही रहेगा। रविवार और नवरात्र का ये शुभ योग बना है। नवरात्र में देवी मां की पूजा की जाती है और रविवार को सूर्य देव की। अगर आप सूर्य को रोज जल चढ़ाते हैं तो नवरात्र में यहां बताए जा रहे सूर्य के उपाय भी करें। ये सभी उपाय उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार बताए गए हैं।

सूर्य के दोष दूर करने के लिए नवरात्र में चढ़ाएं सूर्य को जल

अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में सूर्य से संबंधित दोष हैं तो उसे रोज सूर्य को जल चढ़ाना चाहिए। खासतौर पर नवरात्र के दिनों में ये उपाय अवश्य करना चाहिए। इस उपाय से घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान भी बढ़ सकता है।

ऐसे चढ़ाएं सूर्य को जल

- सूर्य को जल चढ़ाने के लिए सुबह सूर्योदय से पहले ही बिस्तर छोड़ देना चाहिए।

- इसके बाद स्नान करें और साफ वस्त्र धारण करें। इसके बाद तांबे के लोटे से सूर्य को जल चढ़ाएं।

- जल चढ़ाते समय सूर्य के मंत्रों का जाप करें। मंत्र- ऊँ सूर्याय नम:, ऊँ भास्कराय नम:

ये काम भी अवश्य करें

- रविवार को तांबे के बर्तन गुड़ भरकर दान करें।

- आदित्य हृदय स्रोत का पाठ करेंगे तो बहुत अच्छा रहेगा।

- सूर्य के किसी भी एक मंत्र का 21 बार जाप करें।

- नवरात्र में माणिक्य, गुड़, कमल फूल, लाल वस्त्र, लाल चंदन, तांबा या सोना दान करें।

X
Jyotish ke upay, navratra ke upay, devi puja, surya puja ke upay, surya ko jal
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन