Rashi Aur Nidaan

--Advertisement--

लड़की हो या लड़की, बहुत सुंदर होने के बाद इनकी शादी होती है देर से

ज्योतिष के अनुसार कुंडली से ये मालूम हो सकता है कि किसी व्यक्ति की शादी जल्दी होगी या देर से।

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 05:00 PM IST
kundli reading about marriage problems in hindi, jyotish ke upay

अगर बहुत कोशिशों के बाद भी किसी व्यक्ति का विवाह नहीं हो पा रहा है तो कुंडली में विवाह से संबंधित दोष हो सकते हैं। कुंडली के कुछ ऐसे दोष बताए गए हैं, जिनसे विवाह में देरी होती है। यहां जानिए कोलकाता की एस्ट्रोलॉजर डॉ. दीक्षा राठी के अनुसार शादी से जुड़ी कुछ खास योग...

1. कुंडली के सप्तम भाव में बुध और शुक्र दोनों की युति हो तो विवाह देरी से होता है।

2. कुंडली चौथे भाव में या लग्न भाव में मंगल हो और सप्तम भाव में शनि हो तो व्यक्ति की रुचि शादी में नहीं होती है।

3. कुंडली के सप्तम भाव में शनि और गुरु होने पर शादी देर होती है।

4. चंद्र से सप्तम भाव में गुरु हो तो शादी देर से होती है। यही बात चंद्र की राशि कर्क से भी मानी जाती है।

5. सप्तम भाव में त्रिक भाव का स्वामी हो,कोई शुभ ग्रह योगकारक नहीं हो तो विवाह में देरी होती है।

6. सूर्य, मंगल और बुध लग्न भाव या लग्न को स्वामी को देखते हैं और गुरु बारहवें भाव में बैठा हो तो आध्यात्मिकता की वजह से विवाह में देरी होती है।

7. लग्न में सप्तम में बारहवें भाव में गुरु या शुभ ग्रह योग कारक नहीं हो परिवार भाव में चंद्र कमजोर हो तो विवाह आसानी से नहीं होता है।

8. कुंडली में सप्तम भाव का स्वामी या सप्तम में शनि अशुभ हो तो विवाह देर से होता है।

X
kundli reading about marriage problems in hindi, jyotish ke upay
Click to listen..