विज्ञापन

मान्यताएं- रात में ये 2 काम भूलकर भी न करें, इनसे बढ़ती है गरीबी

Dainik Bhaskar

Jan 03, 2018, 05:00 PM IST

पुरानी मान्यताओं का पालन करने पर घर की सुख-समृद्धि बढ़ सकती है।

old traditions about money problems, paramparaye in hindi
  • comment

कुछ लोग नियमित रूप से पूजा-पाठ करते हैं, कड़ी मेहनत करते हैं, लेकिन फिर भी किस्मत का साथ नहीं मिल पाता है। इस संबंध में मान्यता है कि जो लोग घर में अशुभ काम करते हैं, वे भाग्य का साथ प्राप्त नहीं कर पाते हैं। शास्त्रों में कुछ ऐसे काम बताए गए हैं, जिनका ध्यान रखने पर देवी-देवताओं की कृपा मिलती है और दुर्भाग्य दूर हो सकता है।

पहला काम

रात में जूठे बर्तन और गंदे कपड़े भिगोकर नहीं सोना चाहिए। ये काम घर की सुख-समृद्धि के लिए अच्छा नहीं है। जिन घरों में रोज ऐसा होता है, वहां अशांति होती है। ऐसे घर से देवी-देवताओं चले जाते हैं। रात में ये दोनों काम करने से बचें।

दूसरा काम

घर की गरीबी बढ़ाने में फालतू सामान भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। बेकार चीजें घर में नकारात्मकता बढ़ाती हैं, इसकी वजह से परिवार के सदस्यों का तनाव बढ़ता है। इससे बचने के लिए घर से बेकार चीजें तुरंत हटा देनी चाहिए।

तीसरा काम

पुरानी मान्यता है कि दान करने से सभी दुख दूर हो सकते हैं। अगर कोई व्यक्ति समय-समय पर जरूरतमंद लोगों की मदद करता है तो उनकी दुआओं से सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं।

चौथा काम

घर में रोज सबसे पहली रोटी गाय को खिलाएं और अंतिम रोटी कुत्ते को खिलाएं। ये उपाय रोज करना चाहिए। इस उपाय से घर में शांति बनी रहती है।

पांचवां काम

रोज सुबह जल्दी उठें और उठते ही सबसे पहले दोनों हथेलियां देखें। इसके बाद दिन की शुरुआत करें।

छठा काम

घर के मंदिर में सुबह काम पूजा करें। घी का दीपक जलाएं।

old traditions about money problems, paramparaye in hindi
  • comment
old traditions about money problems, paramparaye in hindi
  • comment
old traditions about money problems, paramparaye in hindi
  • comment
X
old traditions about money problems, paramparaye in hindi
old traditions about money problems, paramparaye in hindi
old traditions about money problems, paramparaye in hindi
old traditions about money problems, paramparaye in hindi
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन