--Advertisement--

घर में इस जगह न लगाएं मृत लोगों की फोटो, वरना बढ़ सकता है दुर्भाग्य

घर में मंदिर में नियमित रूप से पूजा-पाठ करते रहने से दुर्भाग्य से मुक्ति मिल सकती है।

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 05:00 PM IST

अधिकतर लोग अपने-अपने घरों में परिवार के मृत लोगों की फोटो लगाते हैं। मृत लोगों से भावनाएं जुड़ी रहती हैं और इसी वजह से परिवार के सदस्यों की मृत्यु के बाद भी उन्हें अपनी यादों में बनाए रखने के लिए घर में उनकी फोटो लगाई जाती है। कुछ लोग मृतकों की फोटो घर के मंदिर में ही लगा लेते हैं जो कि शास्त्रों के अनुसार गलत है। यहां जानिए उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी पं. सुनील नागर के अनुसार घर के मंदिर से जुड़ी खास बातें...

- परिवार के मृत लोगों की फोटो लगाने के लिए उत्तर दिशा शुभ रहती है। घर में उत्तर दिशा की दीवार पर मृतकों के तस्वीर लगाई जा सकती है, लेकिन मंदिर में नहीं लगानी चाहिए। मंदिर में मृतकों के फोटो लगाने से देवी-देवताओं की पूजा सफल नहीं हो पाती है। साथ ही, इससे नकारात्मकता भी बढ़ती है, इसकी वजह से कार्यों में सफलता नहीं मिल पाती है और बुरे समय का सामना करना पड़ सकता है।

- ध्यान रखें घर में पूजा करने वाले व्यक्ति का मुंह पश्चिम दिशा की ओर होगा तो बहुत शुभ रहता है। इसके लिए पूजा स्थल का दरवाजा पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। अगर ये संभव ना हो तो पूजा करते समय व्यक्ति का मुंह पूर्व दिशा में होगा, तब भी श्रेष्ठ फल प्राप्त होते हैं।

- घर में मंदिर ऐसे स्थान पर बनाया जाना चाहिए, जहां दिनभर में कभी भी कुछ देर के लिए सूर्य की रोशनी अवश्य पहुंचती हो। जिन घरों में सूर्य की रोशनी और ताजी हवा आती रहती है, वहां के कई वास्तु दोष स्वत: ही शांत हो जाते हैं। सूर्य की रोशनी से वातावरण की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होती है और सकारात्मक ऊर्जा में बढ़ोतरी होती है।

- घर में जिस स्थान पर मंदिर है, वहां चमड़े से बनी चीजें, जूते-चप्पल नहीं ले जाना चाहिए। पूजन कक्ष में पूजा से संबंधित सामग्री ही रखनी चाहिए। अन्य कोई वस्तु रखने से बचना चाहिए।