Rashi Aur Nidaan

--Advertisement--

अधिकतर लोग नहीं जानते सुंदरकांड की ये खास बातें, इसके पाठ से बदल सकती है किस्मत

सुंदरकांड के पाठ से हनुमानजी बहुत जल्दी प्रसन्न होते हैं।

Dainik Bhaskar

Mar 29, 2018, 05:00 PM IST
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi

यूटिलिटी डेस्क. इस शनिवार, 31 मार्च को हनुमान जयंती है। हनुमानजी की सफलता के लिए सुंदरकाण्ड को याद किया जाता है। जो भक्त सुंदरकांड का पाठ करता है, हनुमानजी उसकी किस्मत बदल सकते हैं। श्रीरामचरित मानस के इस पांचवें अध्याय को लेकर लोग अक्सर चर्चा करते हैं कि इस अध्याय का नाम सुंदरकाण्ड ही क्यों रखा गया है? यहां जानिए उज्जैन के श्रीराम कथाकार पं. मनीष शर्मा के अनुसार सुंदरकांड से जुड़ी खास बातें...


श्रीरामचरित मानस में हैं 7 काण्ड
श्रीरामचरित मानस में कुल 7 काण्ड (अध्याय) हैं। सुंदरकाण्ड के अतिरिक्त सभी अध्यायों के नाम स्थान या स्थितियों के आधार पर रखे गए हैं। बाललीला का बालकाण्ड, अयोध्या की घटनाओं का अयोध्या काण्ड, जंगल के जीवन का अरण्य काण्ड, किष्किंधा राज्य के कारण किष्किंधा काण्ड, लंका के युद्ध की चर्चा का लंका काण्ड और जीवन से जुड़े प्रश्नों के उत्तर उत्तरकाण्ड में दिए गए हैं।
सुंदरकाण्ड का नाम सुंदरकाण्ड क्यों रखा गया?
हनुमानजी, सीताजी की खोज में लंका गए थे और लंका त्रिकुटाचल पर्वत पर बसी हुई थी। त्रिकुटाचल पर्वत यानी यहां 3 पर्वत थे। पहला सुबैल पर्वत, जहां के मैदान में युद्ध हुआ था। दूसरा नील पर्वत, जहां राक्षसों के महल बसे हुए थे और तीसरे पर्वत का नाम है सुंदर पर्वत, जहां अशोक वाटिका निर्मित थी। इसी अशोक वाटिका में हनुमानजी और सीताजी की भेंट हुई थी। इस काण्ड की यही सबसे प्रमुख घटना थी, इसलिए इसका नाम सुंदरकाण्ड रखा गया है।
सुंदरकाण्ड के पाठ से प्रसन्न होते हैं हनुमानजी
माना जाता है कि सुंदरकाण्ड के पाठ से बजरंग बली की कृपा बहुत ही जल्द प्राप्त हो जाती है। जो लोग नियमित रूप से इसका पाठ करते हैं, उनके सभी दुख दूर हो जाते हैं। इस काण्ड में हनुमानजी ने अपनी बुद्धि और बल से सीता की खोज की है। इसी वजह से सुंदरकाण्ड को हनुमानजी की सफलता के लिए याद किया जाता है।

ये भी पढ़ें...

31 मार्च को हनुमान जयंती- कम लोग ही जानते हैं पंचमुखी हनुमानजी का ये रहस्य
​हनुमान जयंती पर 30 साल बाद शनि का दुर्लभ योग- इन दो राशियों के लिए रहेगा अशुभ, जानें 12 राशियों पर असर

भूलकर भी घर में न रखें हनुमानजी की ऐसी 2 फोटो, वरना हो सकता है कुछ अशुभ

दुर्भाग्य दूर कर सकते हैं हनुमानजी के ये 10 रामबाण उपाय, 31 मार्च को करें इनमें से कोई एक

unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
X
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
unknown facts about sunderkand in hindi, shriram charit manas and facts in hindi
Click to listen..