--Advertisement--

गणेशजी के इन 11 मंत्रों के जाप के साथ चढ़ाएं ये चीजें, दूर होने लगेंगी परेशानियां

गणेशजी प्रथम पूज्य देव हैं और इनकी पूजा हर काम में सफलता मिलती है।

Danik Bhaskar | Nov 21, 2017, 05:00 PM IST

शिवपुराण के अनुसार शिवजी के वरदान से गणेशजी की पूजा सभी देवताओं में सबसे पहले की जाती है। यहां जानिए गणेशजी को प्रसन्न करने के लिए किन मंत्रों का जाप करना चाहिए।

रोज सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि नित्यकर्म से निवृत्त हो जाएं। पीले वस्त्र धारण करें। भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित करें। प्रतिमा को पवित्र जल से स्नान कराएं। इसके बाद सिंदूर, पीला चंदन, पीले फूल, अक्षत, जनेऊ, पीला रेशमी वस्त्र, दूर्वा और लड्डू का प्रसाद अर्पित करें। श्रीगणेश की पूजन-आरती करें। पूजा में भगवान श्री गणेश स्त्रोत, अथर्वशीर्ष, संकटनाशक स्त्रोत आदि का पाठ करें। अगर आप चाहें तो इन 11 मंत्रों का भी जाप कर सकते हैं...

ऊँ गणाधिपाय नम:

ऊँ उमापुत्राय नम:

ऊँ विघ्ननाशनाय नम:

ऊँ विनायकाय नम:

ऊँ ईशपुत्राय नम:

ऊँ सर्वसिद्धप्रदाय नम:

ऊँ एकदन्ताय नम:

ऊँ इभवक्त्राय नम:

ऊँ मूषकवाहनाय नम:

ऊँ कुमारगुरवे नम:

इस तरह पूजन करने से भगवान श्रीगणेश जल्दी प्रसन्न होते हैं।