--Advertisement--

कुंडली- इस भाव मालूम होता है व्यक्ति को भाग्य का साथ मिलेगा या नहीं

यहां जानिए सप्तम भाव से जुड़ी खास बातें...

Danik Bhaskar | Nov 14, 2017, 05:00 PM IST
कुंडली का सप्तम भाव ज्योतिष में बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। ये भाव जीवन साथी से संबंधित होता है। इस भाव के आधार पर व्यक्ति के वैवाहिक जीवन से जुड़ी खास बातें मालूम हो जाती हैं।
2. शुक्र के इस योग से जीवन साथी सुंदर और मीठा बोलने वाला होता है। ऐसे लोगों का साथी हर कदम पर साथ देता है।
3. सप्तम भाव के शुक्र की लग्न पर दृष्टी होने से व्यक्ति का स्वभाव भी हंसमुख और संतुष्ट रहने वाला होता है।
- एस्ट्रोलॉजर डॉ. दीक्षा राठी
drathi1124@gmail.com
4. इस भाव के शुक्र की वजह से व्यक्ति ज्यादा मेहनती नहीं होता है, ये लोग कम मेहनत करना पसंद करते हैं।
5. सप्तम भाव से व्यक्ति के साझेदार का संबंध भी देखा जा सकता है। शुक्र सप्तम होने से व्यक्ति अपने ससुराल पक्ष के किसी व्यक्ति को अपना साझेदार बना लेते हैं, जिससे नुकसान की संभावनाएं बनती हैं।
6. सप्तम भाव के शुक्र से व्यक्ति का विवाह उचित आयु में हो जाता है और विवाह के बाद व्यक्ति का भाग्योदय हो सकता है।
7. सप्तम भाव में शुक्र होने पर व्यक्ति को शादी से संबंधित काम बहुत लाभ देते हैं। साथ ही, व्यक्ति जन्मभूमि से दूर जाकर सफलता प्राप्त करता है।