--Advertisement--

इस तरह पैर का जूता बदल सकता है भाग्य, ध्यान रखें ये बातें

ज्योतिषीय ग्रंथ जातक पारिजात के कालपुरूष सिद्धांत में कहा गया है जातक की कुंडली का आठवां भाव पैरों के तलवों और आयु से है

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2018, 05:00 PM IST
Shoes for good luck Astrology Tips

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार शनि को कर्म फल दाता माना गया है। मान्यता है कि कुंडली के ग्रह ही आपके जीवन की खुशियों और दुखों का एक बड़ा कारण होते हैं। इन्हें प्रसन्न और नियंत्रित करने के लिए इंसान को बहुत विचार करना चाहिए। ज्योतिषीय ग्रंथ जातक पारिजात के कालपुरूष सिद्धांत में कहा गया है जातक की कुंडली का आठवां भाव पैरों के तलवों और आयु से है।

इसलिए जूते भी आठवें भाव को संबोधित करते हैं। कहा तो ये भी जाता है कि यदि कुंडली का आठवां भाव कमजोर स्थिति में हो तो मनुष्य को मृत्यु तुल्य कष्ट झेलना पड़ता है। इसलिए जूतों का भी इंसान के भाग्य पर गहरा प्रभाव पड़ता है। जूतों पर मूलत: शनि का आधिपत्य होता है, इसलिए पैरों में जिस भी तरह के जूते पहने जाएं, ध्यान रखें कि वह शनि देव को नकारात्मक रूप से प्रभावित ना कर रहे हों। अाइए जानते हैं जूते से जुड़ी कौन सी बातें ध्यान रखना चाहिए....

आगे पढ़ें ज्योतिष के अनुसार जूतों के कारण कैसे प्रभावित होता है आपका भाग्य -
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
X
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Shoes for good luck Astrology Tips
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..