--Advertisement--

आज घर में इस जगह रखें तांबे के सूर्य, हर काम का मिलने लगेगा दोगुना फल

कौन-सी इच्छा पूरी करने के लिए कहां रखें तांबे के सूर्य

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 05:00 PM IST
makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,

आज यानि 14 जनवरी, रविवार को मकर संक्रांति का पर्व है। ये पर्व सूर्य देव को समर्पित है। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करना और सूर्य को अर्घ्य चढ़ाने की परंपरा है। यह दिन सूर्य की पूजा और उससे जुड़े उपाय करने के लिए खास माना जाता है।

वास्तु शास्त्र पंच तत्वों पर आधारित है। ये पंच तत्व हैं अग्नि, वायु, पानी, पृथ्वी व आकाश। सूर्य भी अग्नि का ही स्वरूप माना गया है। सूर्य भी वास्तु शास्त्र को प्रभावित करता है। अगर वास्तु के अनुसार घर की इन 8 जगहों पर तांबे के सूर्य को दीवार पर लगाया जाए तो हर इच्छा पूरी की जा सकती है। अगर सभी जगह सूर्य रखना संभव न हो को अपनी मनोकामना के अनुसार किसी 1 जगह पर भी तांब के सूर्य रखें जा सकते हैं।

1. ज्योतिष के अनुसार रात 12 बजे से 3 बजे तक सूर्य पृथ्वी के उत्तरी भाग में होता है। उत्तर दिशा धन के लिए शुभ होती है। अगर धन की कमी हो तो घर में जहां कीमती वस्तुओं या जेवरात आदि रखे हो, वहां तांबे की सूर्य प्रतिमा लगाने से घर में कभी पैसों की कमी नहीं होती।

2. सूर्योदय से पहले रात 3 से सुबह 6 बजे का समय ब्रह्म मुहूर्त होता है। इस समय सूर्य पृथ्वी के उत्तर-पूर्वी भाग में होता है। यह समय चिंतन-मनन व अध्ययन के लिए बेहतर होता है। बच्चे पढ़ाई में कमजोर हों तो स्टडी रूम या बच्चों के कमरे में सूर्य प्रतिमा लगाने से पढ़ाई में सफलता मिलती है।

makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,

3. सुबह 6 से 9 बजे तक सूर्य पृथ्वी के पूर्वी हिस्से में रहता है। इस समय सूर्य की रोशनी रोगों से बचाती है। घर में अगर बीमारियां ज्यादा हों तो हॉल या ऐसे कमरे में सूर्य प्रतिमा लगानी चाहिए, जहां घर के सभी सदस्य ज्यादा से ज्यादा समय बिताते हों। इससे घर में बीमारियां ज्यादा दिन नहीं टिकती।

 


4. सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक सूर्य पृथ्वी के दक्षिण-पूर्व में होता है। यह समय भोजन पकाने के लिए उत्तम होता है। इसलिए घर के किचन में तांबे की सूर्य प्रतिमा लगाने से घर में कभी अन्न की कमी नहीं होती।

makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,

5. दोपहर 12 से 3 बजे के दौरान सूर्य दक्षिण में होता है, इस समय को विश्रांति काल (आराम का समय) माना जाता है। अगर घर में अशांति या झगड़े का माहौल रहता है तो घर के मुखिया के बेडरूम में सूर्य प्रतिमा लगाने से किसी तरह की परेशानी नहीं आती।

 


6. दोपहर 3 से शाम 6 बजे के दौरान सूर्य दक्षिण-पश्चिम भाग में होता है। यह समय अध्ययन और कार्य का समय होता है। व्यापार में नुकसान हो रहा हो तो ऑफिस या दुकान में सूर्य प्रतिमा लगाने पर बिजनेस में लगातार तरक्की होती है।

makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,

7. शाम 6 से रात 9 में सूर्य पश्चिम दिशा की ओर जाता है। इस समय को देव पूजा और ध्यान के लिए अच्छा मानते हैं। इसलिए घर के मंदिर में तांबे की सूर्य प्रतिमा लगाने से घर-परिवार पर सूर्य देव की कृपा बनी रहती है।

 


8. शाम 9 से मध्य रात्रि के समय सूर्य घर के उत्तर-पश्चिम में होता है। घर के बेडरूम में तांबे की सूर्य प्रतिमा लगाने पर वहां रहने और सोने वालो को मान-सम्मान की प्राप्ति होती है।

 

X
makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,
makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,
makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,
makar sankranti 2018,makar sankranti ke upay,
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..