• mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
विज्ञापन

जानें आज के कौन-से 2 खास शहर है महाभारत के हस्तिनापुर और इन्द्रप्रस्थ

Dainik Bhaskar

Jan 30, 2018, 05:00 PM IST

आज कहां और किस नाम से मौजूद है महाभारत की ये खास जगहें

mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
  • comment

महाभारत को पांचवा वेद कहा जाता है। महाभारत दुनिया का सबसे बड़ा ग्रंथ है, जिसमे कई पात्रों, कथाएं और जगहों के बारे में वर्णन मिलता है। आज भी लोग महाभारत से जुड़ी हर छोटी से छोटी जानकारी जानना चाहते हैं। महाभारत में कई जगहों का वर्णन आया था, वे जगहें महाभारत काल की बहुत ही महत्वपूर्ण जगहें मानी जाती थी। महाभारत काल की कई जगहें तो आज गायब हो गई है, लेकिन कुछ जगहें आज भी मौजूद हैं।

हस्तिनापुर और इन्द्रप्रस्थ महाभारत की 2 सबसे खास जगहें थी, ये दोनों की स्थान आज भी भारत में मौजूद है। ये जगहें कहां है और किस नाम से मौजूद है, इस स्टोरी में हम आपको इसी के बारे में जानकरी देंगे।

1. हस्तिनापुर, मेरठ

उत्तर प्रदेश में स्थित हस्तिनापुर महाभारत के समय का एक चर्चित स्थान रहा है। कुरुवंश की राजधानी हस्तिनापुर में ही थी। इसी हस्तिनापुर में कौरवों और पांडवों का बचपन बीता था। महाभारत की पूरी कथा में सबसे ज्यादा वर्णन इसी स्थान का पाया जाता है। आज हस्तिनापुर उत्तर प्रदेश के मेरठ के रूप में जाना जाता है। मेरठ उत्तर प्रदेश के मुख्य शहरों में से एक है।

आगे जानें अन्य 2 जगहों के बारे में...

mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
  • comment

2. इन्द्रप्रस्थदिल्ली

 

भारत की राजधानी दिल्ली का पुराना नाम इन्द्रप्रस्थ है। यह नगर पांडवों ने बसाया था। दिल्ली को यह नाम क्षत्रिय राजा दिलीप सिंह ढिल्लो से मिला था। उससे पहले ये खांडवप्रस्थ और इन्द्रप्रस्थ के नाम से जाना जाता था। पांडवों ने इस जगह पर विश्व का सबसे बड़ा और आकर्षित भवन बनवया था, जिसकी सुंदरता के वर्णन महभारत में पाया जाता है। आज भी दिल्ली के प्रगति मैदान के आसपास के क्षेत्र को इन्द्रप्रस्थ कहा जाता है। दिल्ली का एक किला पुराना किला के नाम से मशहूर है, माना जाता हैं कि वह किला पांडवों के द्वारा बनवाया गया था।

 

mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
  • comment

ज्योतिसर तीर्थकुरुक्षेत्र

 

हरियाणा के कुरुक्षेत्र शहर से लगभग 6 किलोमीटर दूर ज्योतिसर तीर्थ नाम की एक प्रसिद्ध जगह है। यहीं वह स्थान है, जहां पर भगवान कृष्ण ने अर्जुन को अपने परिवार के मोह में पड़ता देख गीता का उपदेश दिया था। मान्यता है कि जिस वटवृक्ष के नीचे भगवान कृष्ण ने गीता का उपदेश दिया था, वह वटवृक्ष 5000 सालों से आज भी खड़ा है। आज भी यहां का पूरा क्षेत्र पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है। यहां पर महाभारत काल से जुडी हुईं कई कलाकृतियाँ और अन्य प्रमाण देखने को मिलते हैं।

X
mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
mahabharata places today, Cities of Mahabharata in the present time
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन