--Advertisement--

ऐसी साड़ी पहनकर सड़क पर निकली ये महिला जिसने भी देखा रह गया दंग

वंशिका बोलीं, 500 व 1000 के नोट मोबाइल में तो डिलीट हो जाएंगे। इसलिए सहेजने के लिए कुछ अलग करना था।

Danik Bhaskar | Feb 22, 2018, 07:06 PM IST

सोशल मीडिया पर एक महिला की तस्वीर काफी वायरल हुई थी। इस महिला का नाम वंशिका चौधरी है जो कि नोटबंदी के दौरान बंद हुए 500-1000 के नोट की प्रिंटेड साड़ी पहनकर निकली थी।

दरअसल,नागदा निवासी वंशिका को इन नोटों के बंद होने का बेहद दुःख था इसलिए उन्होंने साड़ी पर ये प्रिंट करवा लिए। वंशिका बोलीं, 500 व 1000 के नोट मोबाइल में तो डिलीट हो जाएंगे। इसलिए सहेजने के लिए कुछ अलग करना था।

उनका कहना था कि जब भी वह पुराने नोटों को मिस करेंगी तो इस साड़ी को पहनेंगी। वैसे,जब जब वह वंशिका इस साड़ी को पहनकर सड़कों पर निकलती हैं तो हर कोई उन्हें देखता रह जाता है। वंशिका पेशे से बुटिक संचालक हैं और इस साड़ी को पहनकर वह बेहद लोकप्रिय हो गई हैं।

भारत के 500 और 1000 रुपये के नोटों का विमुद्रीकरण को मीडिया में नोटबंदी कहा गया। 8 नवंबर 2016 को रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टीवी पर एक संबोधन रखा और उसमें ऐलान किया था कि 500 और 1000 के नोट रात 12 बजे से बंद हो जाएंगे यानि 500 और 1000 के नोट महज कागज का टुकड़ा होंगे और उनकी जगह 500 और 2000 के नए नोट जारी किए जाएंगे।
 
लोगों को कहा गया कि जिसके पास भी 500 और 1000 के नोट हैं वो उन्हें बैंकों में जमा करा दें। इस फैसले के बाद लोगों को काफी परेशानी तो हुई लेकिन उन्होंने इसे एक अच्छा कदम मानते हुए स्वीकार कर लिया।