Hindi News »Jokes »Daily Jokes »Other Jokes» Latest Haryanvi Style Jokes

From The Web: हलवा आते ही चम्मच भरी और मुंह में हलवा धर लिया...

हरियाणवी स्टाइल एक बार एक जाट भाई अपनी एक नई रिश्तेदारी में चल्या गया

dainikbhaskar.com | Last Modified - Oct 04, 2014, 04:00 PM IST

हरियाणवी स्टाइल
एक बार एक जाट भाई अपनी एक नई रिश्तेदारी में चल्या गया, साथ में उसका दोस्त भी था। नई रिश्तेदारी थी, खातिरदारी में फटाफट गरमा-गरम हलवा हाजिर किया गया। दोनों सफर में थक गए थे, भूख भी ‘करड़ी’ लाग रही थी। हलवा आते ही दोनूंआं नै चम्मच भरी और मुंह में गरमा-गरम हलवा धर लिया। ईब इतना गरम हलवा ना निगल्या जाए और ना बाहर थू क्या जाए।
बुरा हाल हो-ग्या, आंख्यां में आंसू आ-गे।
दोस्त ने हिम्मत करी और बोल्या, "चौधरी, के होया?’
जाट बोल्या, "भाई, जब घर तैं चाल्या था, तै थारी चौधरण बीमार-सी थी, बस उस की याद आ गी।’ दोस्त की आंख्यां में भी और भी पाणी देख कै जाट बोल्या, "र, तेरै के होया?’ नाई बोल्या, "चौधरी, मन्नैतै लाग्गै सै चौधरण मर ली।’
नीरस नाटक
एक बोरियत भरे नाटक के प्रदर्शन के दौरान एक बच्चा जोर-जोर से रोने लगा तो मैनेजर ने कहा, ‘यदि आप बच्चे को चुप नहीं करा पाते हैं ,तो आपको बाहर जाना होगा। हम टिकट के पैसे वापिस कर देंगे।’ यह सुनकर नाटक देख रहे कई लोगों ने अपने छोटे-छोटे बच्चों को चिकोटी काटकर रुलाना शुरु कर दिया।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Other Jokes

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×