विज्ञापन

जानिए 'ऊँ' के चमत्कारी उपाय और खास बातें, चमक जाएगी किस्मत / जानिए 'ऊँ' के चमत्कारी उपाय और खास बातें, चमक जाएगी किस्मत

धर्म डेस्क. उज्जैन

Mar 05, 2013, 06:30 AM IST

सृष्टि के आरंभ में सर्वप्रथम जो शब्द उत्पन्न हुआ, वह 'ओम' ही था।

jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment

सृष्टि के आरंभ में सर्वप्रथम जो शब्द उत्पन्न हुआ, वह 'ओम' ही था। सनातन धर्म के समस्त श्लोक एवं मंत्र का आरंभ इसी एकाक्षरी मंत्र से होता है। ओम वह सात्विक शक्ति है, जिसके जाप के समय होने वाले स्पंदन से शरीर के अंदर व्याप्त सभी प्रकार के रोगाणुओं का नाश हो जाता है। ओम का बारंबार उच्चारण हमारे लिए कई प्रकार से सहायक होता हैं। बीमारियों को भगाने के अलावा हमारे आसपास के वातवरण को रमणीय बनाने एवं जीवन में खुशहाली लाने के लिए भी इसका जाप एवं ध्यान उपयोगी हैं।यहां दिए गए फोटो में जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा द्वारा बताए गए ऊँ के चमत्कारी उपाय और खास बातें...

नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
कई शोधों में यह पाया गया कि पुराणों और वेदों में आने वाले ओम मंत्र का उच्चारण शरीर के विभिन्न अंगों को स्पंदित करता है और शरीर में नई उर्जा विकसित करता है। प्रणव मंत्र, यानी ओमकार सृष्टि के आरंभ में सर्वप्रथम उत्पन्न हुआ एकाक्षर मंत्र है। प्र अर्थात प्रकृति से उत्पन्न संसार रूपी महासागर तथा प्रणव इसे पार करने के लिए (णव/नव) नाव के समान है। इसलिए ओमकार को प्रणव कहते हैं।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
शिवपुराण में प्रणव: साधकों के लिए कहा गया है- प्र- प्रपंच, ण- नहीं है, व:- तेरे लिए। इस भाव से भी इसका जाप ओम के रूप में किया जाता है। इसी प्रणव: को दूसरे भाव में- प्र- प्रकर्षेण, न- नयेत, व:- युष्मान मोक्षम् इति वा प्रणव:, अर्थात इसके जाप करने वालों को, साधकों को मैं बलपूर्वक मोक्ष तक पंहुचा दूंगा। प्र- कर्मक्षयपूर्वक, णव (नव)- नूतन ज्ञान देने वाला- अपने जाप करने वाले उपासक के समस्त कर्मों का नाश कर, उन्हें नवीन ज्ञान प्रदान करने वाला होता है।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
प्रणव के दो भेद होते हैं- स्थूल और सूक्ष्म। इनमें से जो एकाक्षर रूप ओम है वह सूक्ष्म रूप है। इसके जाप से शरीर के भीतर के आंतरिक अंगों पर विभिन्न-विभिन्न रूप से दबाव पड़ता है। इसका जाप शरीर के भीतर व्याप्त कई रोगों को मिटाने की क्षमता रखता है तथा नए रोगों को उत्पन्न नहीं होने देता।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
पांच अवयव- 'अ' से अकार, 'उ' से उकार एवं 'म' से मकार, 'नाद' और 'बिंदु' इन पांचों को मिलाकर 'ओम' एकाक्षरी मंत्र बनता है। आराम की अवस्था में बैठकर तर्जनी अंगुली को अंगूठे पर लगाकर ज्ञान मुद्रा बना लें। उसके बाद पेड़ू से अ, ह्रदय से उ एवं नाक से म को नाद और बिंदु की ध्वनि सहित उच्चारित करें। श्वास को सामान्य बनाए रखें। ओम का यह उच्चारण आत्मविश्वास में वृद्धि करेगा। मस्तिष्क में आने वाले नकारात्मक विचारों को दूर कर, सकारात्मक ऊर्जा का विकास करता है। शरीर के तंत्र सुचारु होकर ठीक ढंग से कार्य करते हैं तथा रक्त का संचार एक समान होता हैं, जिससे ब्लड प्रेशर एवं ह्रदय संबधी रोगों में लाभ होता है।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
जिसकी स्मरण शक्ति कमजोर हो, पढ़ाई में कमजोर विद्यार्थी और अधिक दिमाग और बोलचाल का काम करने वाले व्यक्तियों के लिए यह सर्वोत्तम उपासना है। प्रात:काल पूर्व दिशा की ओर मुंह कर, ज्ञान मुद्रा में बैठ जाएं तथा अधखुली आंखों से केसरी रंग के महामंत्र ऊं का ध्यान अपनी दोनों भौहों के बीच में करें। कम से कम 108 बार इसी विधि से ओम का उच्चारण करें। इस उपासना से बुद्धि का विकास होता है, वाणी प्रखर होती है, ओजस्विता आती है। जाप के बाद आंखों को धीरे से बंद कर, अपनी हथेलियों को रगड़कर समस्त अंग पर लगाने से अंग पुष्ट होते हैं एवं शरीर में कांति आती है।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
जिसके यहां धन का अभाव हो, ऋण की अधिकता हो, दरिद्रता, व्यापार में हानि से परेशान हों, धन रुकता नहीं हो तथा कोई भी कार्य करने में बाधा आती हो, उन्हें पीले वस्त्र धारणकर, पीले आसन पर बैठ पीले रंग के ऊं का ध्यान करना चाहिए। यह कार्य आप दिनभर में कभी भी कर सकते हैं, किंतु सूर्योदय या सूर्यास्त के समय किया जाए, तो ज्यादा लाभकारी होता है। जाप के तत्काल बाद गर्म पदार्थों का सेवन नहीं करें। प्रतिदिन पंद्रह मिनट तक यह ध्यान, जाप करने से दरिद्रता और कामों में आने वाली बाधाएं दूर होने लगती हैं।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
यदि कानूनी विवाद में पड़े हों। प्रयास के बाद भी हल नहीं हो रहा हो, तो सूर्योदय से पहले सीधी हथेली बायीं हथेली पर रख, पद्मासन में बैठ जाएं। नीले रंग के ओम का ध्यान अपनी भौंहों के बीच करें। कुछ दिनों में आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा पैदा होगी तथा होरा का निर्माण होगा। इसके बाद आप किसी भी कार्य के लिए जाएंगे, तो वहां के अधिकारी एवं विरोधी आपकी बातों का सम्मान करेंगे तथा आपके सभी कार्य सफलतापूर्वक पूर्ण हो जाएंगे और विवादों का अंत होगा।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment
परिवार में विवाद होता हो। पति-पत्नी में सांमजस्य नहीं हो या बच्चों के साथ तनाव रहता हो, तो प्रतिदिन पंद्रह मिनट पीपल वृक्ष के नीचे बैठकर, सफेद रंग के ओम प्रणव मंत्र का ध्यान से जाप करें। पीपल का वृक्ष संभव नहीं हो, तो घर में ही किसी एकांत स्थान में बैठकर भी कर सकते हैं। आंखें अधखुली हों, दोनों अनामिका उंगलियों को अंगूठे के मूल में लगाएं। ऐसा करने सें मन में शांति होगी। क्रोध खत्म होने से पारिवारिक विवादों का अंत होगा। शनिवार का जाप विशेष फलदायक।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है
jyts know the measure of om according to shiv puran
  • comment

यदि किसी रोग से परेशान हैं, तो ओम महामंत्र का जाप करें। कुछ ही क्षणों में राहत होगी। मरीज लेटे हुए भी जाप कर सकता है। सर्दीजनित रोग में लाल रंग, वात रोग में सफेद, पित्त रोग में पीले, चोट अथवा घाव में नीले, घुटनों या जोड़ों के दर्द, नसों की समस्या, बुखार, कफ, जकडऩ आदि की शिकायत में नीले रंग के ओम का आंख बंद कर, अपनी भौंहों के बीच ध्यान करना लाभकारी होता है। मुंहासे या किसी चर्म रोग की स्थिति में अनामिका उंगली एव अंगूठे के अग्रभाग को मिलाकर आराम से बैठ जाएं। दोनों हाथों को घुटने पर रखकर, सफेद रंग के ओम का ध्यान अपने ह्रदय के मध्य में करें। प्रतिदिन पांच से लेकर पंद्रह मिनट तक इसे करने की कोशिश करें। यह ध्यान एवं जाप आपकी त्वचा को चमकीला एवं कोमल बनाएगा।
नीचे दी गई लिंक्स पर भी क्लिक करें... पढ़िए खास चाणक्य नीतियां
समझिए, हथेली की ये 1 रेखा कर देती है FINAL आप करोड़पति बनेंगे या नहीं
ऐसे पुरुषों से ज्यादा आकर्षित होती हैं महिलाएं
ऐसे भी जान सकते हैं यदि किसी पुरूष को वैसी शारीरिक कमजोरी है
जेब में पैसा भरा रहेगा, शनिवार को करें तेल और रोटी का ये उपाय
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
नींबू के चमत्कार जानेंगे तो आप भी मानेंगे काम की चीज है नींबू
ज्योतिष से जुड़ी खास जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
नाम अक्षर से जानिए आपका प्रेम-प्रसंग किस राशि के स्त्री या पुरुष से जमेगा
स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत
किस राशि के स्त्री-पुरुष प्रेम-प्रसंग में कैसे होते हैं?
ये 4 काम करने में शर्म नहीं करना चाहिए
जब ये 3 काम हो तो समझ लें पुरुष की किस्मत है खराब
शादी के बाद बच्चे होने में होती है परेशानी यदि सांप को मारा तो
नौकरी में प्रमोशन चाहिए तो 7 प्रकार के अनाज का ये उपाय करें
बहुत कम लोग जानते हैं गायत्री मंत्र की खास बातें और चमत्कारी उपाय
स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

X
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
jyts know the measure of om according to shiv puran
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन